शकुनी चौधरी ने राजनीति छोड़ी

शकुनी चौधरी ने राजनीति छोड़ी

पटना: जदयू से अलग होकर बनी अलग पार्टी हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के प्रदेश अध्यक्ष शकुनी चौधरी ने आज पद से इस्तीफा दिया। साथ ही उन्होंने राजनीति से संन्यास लेने की भी घोषणा कर दी।

श्री चौधरी ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वह पिछले 35 वर्ष से राजनीति कर रहे हैं और इस दौरान उन्होंने कई उतार-चढ़ाव देखे। राजनीति में आने से पूर्व उन्होंने 15 वर्षों तक सेना में रहकर देश की सेवा की। पूर्व मंत्री ने कहा कि चुनाव से पूर्व ही उन्होंने इस बार सार्वजनिक रूप से कहा था कि वह अंतिम बार चुनावी राजनीति में उतरे हैं।

पूर्व मंत्री ने कहा कि वर्ष 1980 में पहली बार विधायक बने और इसके बाद से वह लगातार सात बार विधायक रहे। इस दौरान वह खगड़यिा से एक बार सांसद रहे और इसके बाद बिहार विधानसभा के उपाध्यक्ष भी बने। उन्होंने कहा कि इस बार प्रदेश के लोगों ने जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के वरिष्ठ नेता नीतीश कुमार और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के महागठबंधन को जनादेश दिया है और वह जनादेश का पूरी तरह से सम्मान करते हैं ।

पूर्व मंत्री ने कहा कि विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार के लिए वह अपनी नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए प्रदेश अध्यक्ष के पद से जहां इस्तीफा दे दिया है वहीं अब चुनावी राजनीति से भी पूरी तरह संन्यास ले लिया है। राजग के घटक हम ने 21 सीटों पर चुनाव लड़ा था जिसमें से एक मात्र इमामगंज विधानसभा क्षेत्र से पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी को ही जीत मिली है।

India