पीसीबी ने ख़त्म किया अजमल का क़रार

पीसीबी ने ख़त्म किया अजमल का क़रार

इस्लामाबाद। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने सईद अजमल को सबक सिखाते हुए उनके करार को निलंबित कर दिया है। टीवी चैनल और मीडिया से बातचीत करते हुए अजमल ने आईसीसी के नियमों में खामी होने की बात कही थी कि और खुद पर बैन लगाने को लेकर कहा था कि उन्हें जान बूझकर निशाना बनाया जा रहा है।

अजमल ने भारतीय ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह के एक्शन पर संदेह जताते हुए कहा था मैं कई बार गेंदबाजी एक्शन की जांच की प्रक्रिया से गुजरा और मैंने इस मुद्दे को करीब से देखा है। मैं गारंटी देता हूं कि अगर टेस्ट कराए जाए तो कई ऐसे गेंदबाज है, जिनका एक्शन बाजू मोडऩे की 15 डिग्री की निर्धारित सीमा से ज्यादा है। अजमल ने अश्विन और भज्जी को चकर बताया था। वहीं पीसीबी अध्यक्ष शहरयार खान ने संवाददाताओं से कहा कि अजमल के अनुबंध को रद्द कर दिया गया है।

उन्होंने कहा, हम उनकी टिप्पणी पर खेद जताते है। हमने अनुशासनात्मक नियमों का उल्लंघन करने पर उनके खिलाफ न्यूनतम कार्रवाई की है और उनका अनुबंध रद्द कर दिया है, वेतन रोक दिया है और उनसे टिप्पणी पर स्पष्टीकरण देने के लिए कहा गया है। शहरयार ने कहा कि अजमल के गेंदबाजी एक्शन में सुधार करने के प्रयासों में मदद की जा रही है।

उन्होंने कहा, हम उनका काफी सहयोग करते है। उनके गेंदबाजी एक्शन में सुधार करने के लिए सकलैन मुश्ताक को नियुक्त किया गया तो ऐसे में उनकी यह टिप्पणी निराशाजनक है कि हम उनका साथ नहीं देते है। गत वर्ष अगस्त में अजमल के संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन की शिकायत की गई थी। उससे पहले उन्होंने अपने शानदार करियर में टेस्ट में 178, वनडे में 184 और ट््वंटी 20 में 85 विकेट लिए।