फडनवीस ने डांसर्स पर लुटाए सूखा राहत फंड के पैसे

फडनवीस ने डांसर्स पर लुटाए सूखा राहत फंड के पैसे

नई दिल्ली: महाराष्ट्र की फडनवीस सरकार सवालों के घेरे में है। एक आरटीआई में बड़ा खुलासा हुआ है कि सरकार ने मुख्यमंत्री राहत कोष से 15 डांसर्स को बैंकॉक और थाइलैंड की यात्रा पर भेजा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली की ओर से सूचना के अधिकार के तहत मांगी गई जानकारी में इसका खुलासा हुआ है। रिपोर्ट्स के मुताबिक इसके लिए मुख्यमंत्री राहत कार्य कोष से आठ लाख रुपये डांसर्स के लिए ट्रांसफर किए गए हैं।

ये सभी 15 डांसर्स सचिवालय जिमखाना में सरकारी कर्मचारी हैं। ये एक निजी संस्था की ओर से आयोजित किए गए परफॉर्मिंग आर्ट्स के पांचवे कल्चरल ओलंपियाड में हिस्सा ले रहे हैं। नियमों के मुताबिक मुख्यमंत्री राहत कोष के फंड का इस्तेमाल सिर्फ प्राकृतिक आपदा से प्रभावित लोगों की मदद के लिए किया जा सकता है। डांसर्स के लिए इस राशि को स्पेशल केस मान कर मंजूरी दी गई है।

वहीं दूसरी ओर वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि मुख्यमंत्री इस फंड का इस्तेमाल अपने विवेक के मुताबिक कर सकते हैं। जरूरतमंद लोगों को यह धनराशि मुहैया कराई जा सकती है। अधिकारियों ने कहा कि डांसर्स ने इस साल नेशनल लेवल प्रतियोगिता जीती है।

सीएम को लगा कि विदेश में भारतीय प्रतिभा के प्रचार-प्रसार के लिए इसे बढ़ावा दिया जाना चाहिए। वहीं आरटीआई कार्यकर्ता का कहना है कि महाराष्ट्र में सूखे और फसल बर्बाद होने की वजह से अब तक 660 किसान खुदकुशी कर चुके हैं। डांसर्स को आठ लाख रुपये देने के एक सप्ताह पहले ही मराठवाड़ा में 32 किसानों ने अपनी जान दे दी थी। सचिवालय जिमखाना के अध्यक्ष मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस ही हैं।

India