ऊहा-पोह ख़त्म, सहवाग ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास

ऊहा-पोह ख़त्म, सहवाग ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास

नई दिल्ली: वीरेंद्र सहवाग ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी फॉर्मों से संन्यास ले लिया है। मंगलवार को वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। गौर हो कि इससे पहले तक वीरेंद्र सहवाग के सन्यास को लेकर काफी ऊहा-पोह की स्थिति थी।सहवाग ने ट्वीट कहा कि वह अब आईपीएल भी नहीं खेलेंगे। सहवाग ने कहा, मैंने सोचा था कि अपने 37वें जन्मदिन पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लूंगा।

सहवाग ने बीसीसीआई के सहयोग के लिए आभार जताया।

सर डोनाल्ड ब्रेडमैन और ब्रायन लारा के बाद सहवाग दुनिया के तीसरे ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में दो बार ट्रिपल सेंचुरी बनाने का रिकॉर्ड बनाया। इन तीन दिग्गजों के बाद क्रिस गेल ये कारनामा करने वाले चौथे क्रिकेटर बने। वनडे में डबल सेंचुरी लगाने वाले वे दुनिया और भारत के दूसरे क्रिकेटर हैं। सहवाग ने इंदौर में 8 दिसंबर 2011 को वेस्ट इंडीज के खिलाफ 219 रन की पारी खेली थी।

अप्रैल 2009 में सहवाग को विजडन लीडिंग क्रिकेटर ऑफ द ईयर के अवार्ड मिला। ये अवार्ड पाने वाले वे पहले इंडियन क्रिकेटर हैं। 251 वनडे में सहवाग ने 8273 रन बनाए जिसमें 15 सेन्चुरी और 38 हाफ सेन्चुरी शामिल है। उन्होंने 104 टेस्ट में 8586 रन बनाए हैं जिसमें 23 सेन्चुरी और 32 हाफ सेन्चुरी शामिल है। साथ ही वीरू ने 19 टी-20 मैचों में 394 रन बनाए हैं।