मुंबई वनडे में कमेंट्री नहीं करेंगे अकरम और शोएब

मुंबई वनडे में कमेंट्री नहीं करेंगे अकरम और शोएब

नई दिल्‍ली : मुंबई में सोमवार को बीसीसीआई दफ्तर पर शिवसेना के विरोध प्रदर्शन की वजह से पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शोएब अख्तर और वसीम अकरम ने मुंबई वनडे में कमेंट्री नहीं करने का फैसला किया है। वसीम अकरम और शोएब अख्तर 25 अक्टूबर को होने वाले मुंबई वनडे से पहले ही पाकिस्तान लौट जाएंगे। सोमवार को बीसीसीआई मुख्यालय में घुसकर शिवसैनिकों की ओर से किए गए विरोध-प्रदर्शन और हंगामे को देखते हुए दोनों पूर्व क्रिकेटरों ने यह फैसला लिया है। मुंबई और चेन्‍नई वनडे में अब ये दोनों पूर्व क्रिकेटर कमेंट्री नहीं कर पाएंगे। गौर हो कि पाकिस्तान के दोनों मशहूर क्रिकेटर भारत-दक्षिण अफ्रीका सीरीज में कॉमेंट्री के लिए कई दिनों से भारत में हैं।

गौर हो कि शिवसेना के हंगामे की वजह से पाकिस्‍तानी अंपायर अलीम डार चेन्नई और मुंबई वनडे में अंपायरिंग से हटाए गए हैं। अलीम डार भारत और दक्षिण अफ्रीका सीरीज में अंपायरिंग कर रहे थे। इन्हें चेन्नई और मुंबई वनडे में भी अंपायरिंग करनी थी। शिवसैनिकों ने बीसीसीआई ऑफिस में घुसकर धमकी दी थी कि अलीम दार को 22 अक्टूबर को मुंबई में होने वाले पांचवे वनडे से अलग रखा जाए। अंपायर अलीम दार को पहले भारत साउथ अफ्रीका सीरीज़ में सभी पांच मैचों में अंपायरिंग की जिम्मेदारी दी गई थी। अलीम दार को फिलहाल इस सीरीज से अलग कर दिया गया है और उनकी जगह किसी दूसरे अंपायर के नाम की घोषणा जल्द की जाएगी।

गौर हो कि पाकिस्तानी हस्तियों के खिलाफ अपने अभियान को आक्रामक तरीके से जारी रखते हुए शिवसेना के कार्यकर्ता सोमवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के मुख्यालय में घुस गए, जिसकी वजह से पाकिस्तान क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड के प्रमुख शहरयार खान के साथ दोनो देशों के क्रिकेट संबंधों को बहाल करने के बारे में होने वाली बातचीत टाल दी गई।

शुक्ला से मिले पीसीबी अध्यक्ष 

 भारत-पाक क्रिकेट संबंधों की संभावित बहाली के लिये बातचीत को लेकर उपजे विवाद के बीच पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष शहरयार खान ने आईपीएल अध्यक्ष राजीव शुक्ला से उनके आवास पर मुलाकात की जिसे ‘शिष्टाचार भेंट बताया गया । शहरयार यहां बीसीसीआई अधिकारियों से दिसंबर में द्विपक्षीय श्रृंखला के लिये बातचीत करने आये हैं ।

पीसीबी प्रमुख को मुंबई में कल बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर से बात करनी थी लेकिन बीसीसीआई मुख्यालय पर शिवसेना कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन के बाद बातचीत रद्द करनी पड़ी । उन्होंने मनोहर के कार्यालय के भीतर नारेबाजी की । शुक्ला ने खान से मिलने के बाद कहा ,‘ यह शिष्टाचार भेट थी , कोई आधिकारिक चर्चा नहीं हुई । जब भी बात होगी तो बीसीसीआई अध्यक्ष करेंगे और इन मसलों पर अंतिम फैसला लेंगे ।’

उन्होंने कहा ,‘ श्रृंखला होगी या नहीं, कहां होगी और कैसे होगी, यह सब बातचीत के बाद ही तय होगा अगर बातचीत होती है तो ।’ उन्होंने कहा ,‘ हमें नतीजे नहीं निकालने चाहिये । बातचीत की प्रक्रिया शुरू रहनी चाहिये । बातचीत कब होगी, यह बीसीसीआई अध्यक्ष पर निर्भर है ।’ शुक्ला ने एक बार फिर शिवसेना के प्रदर्शन की निंदा की । उन्होंने कहा ,‘ बीसीसीआई कार्यालय में घुसना और ऐसे हालात पैदा करना कि बातचीत नहीं हो सके, गलत है ।’