शिमला में दोहराया गया दादरी काण्ड

शिमला में दोहराया गया दादरी काण्ड

गाय की तस्करी करने के शक में भीड़ ने की पीट-पीट कर की हत्या 

शिमला। उत्तरप्रदेश के दादरी हत्याकांड के बाद हिमाचल में एक आदमी को गाय की तस्करी करने के शक पर भीड़ द्वारा पीट-पीट कर मार डालने की खबर है। इससे पहले राजधानी दिल्ली से सटे दादरी के बिसाहड़ा गांव में बीफ खाने और रखने की अफवाह पर भीड़ ने मुहम्मद अखलाक को पीटकर मार डाला था।

हिमाचल प्रदेश के नाहन से 40 किलोमीटर दूर सराहां में एक आदमी को गाय की तस्करी करने के शक में भीड़ ने पीटकर मार डाला। जानकारी के अनुसार बुधवार की तड़के कथित रूप से कुछ हिन्दू संगठन (बजरंग दल के गो रक्षा दल) के सदस्यों ने गाय की तस्करी के शक में एक ट्रक को रोका जिसमें गाय और बैल काफी क्षीण हालत में पाए गए। इस अवैध तस्करी के मामले में इन लोगों ने ट्रक के ड्राइवर और उसमें सवार चार अन्य लोगों को खदेड़ कर मारना शुरू कर दिया।

पुलिस के अनुसार सभी पांचों लोग उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के रहने वाले हैं और सभी मुस्लिम समुदाय से हैं। ट्रक में गाय और बैल को कथित रूप से बूचड़खाने की ओर ले जाते हुए पाए जाने पर कुछ लोगों के साथ दल के सदस्यों ने मिलकर ड्राइवर और उसमें सवार अन्य चार लोगों को पीटना शुरू कर दिया।

पुलिस के अनुसार सभी पांचों मौके से भागने में कामयाब तो हो गए, जिनमें से पुलिस ने चार लोगों को दोपहर में घायल अवस्था में पकड़ा और इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया। पुलिस का कहना है कि ट्रक के ड्राइवर नौमान को उस दिन शाम को पाया गया जो काफी गंभीर हालत में था। उसे इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

पुलिस ने मामले को दर्ज कर लिया है और यह जांच कर रही है कि इस मामले में बजरंग दल की भूमिका तो नहीं है। मृतक की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का पुलिस इंतजार कर रही है। लेकिन पुलिस का मानना है कि नौमान की मौत भीतरी चोट की वजह से हुई और संभवत: जब वह भाग रहा था तो किसी पेड़ से टकरा गया हो। इलाके के एसपी सिरमौर सौम्य संभाविशन ने यह बात कही। साथ ही उनका कहना है कि इसमें कोई दो राय नहीं कि उसे भीड़ ने बुरी तरह पीटा था।  एसपी का कहना है कि वह बाकी चार घायलों से पूछताछ कर रहे हैं और संभावित हमलावरों की तस्वीरें दिखाकर पहचान की कोशिश की जा रही है।

इसके साथ ही पुलिस ने यह भी कहा, चारों घायल लोगों पर गाय तस्करी का केस दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल आधिकारिक रूप से कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है।

जहां एक ओर दादरी के बाद इस दूसरे हत्याकांड की बात सामने आ रही है, वहीं गुरूवार को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने दादरीकांड को गलतफहमी का नतीजा बताते हुए कहा, 'मुस्लिम इस देश में रह सकते हैं, लेकिन उन्हें बीफ खाना छोडऩा होगा, क्योंकि गाय यहां विश्वास और आस्था से जुड़ी है', लेकिन बयान पर विवाद उठने के बाद सीएम खट्टर ने कहा कि अखबार ने उनके बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया। सीएम खट्टर ने साथ ही कहा अगर मेरे किसी भी शब्द से किसी की भावनाएं आहत हुई हैं, तो मैं खेद जताने को तैयार हूं'।

India