मोदी पर बरसीं माया, सीबीआई के दुरूपयोग का आरोप

मोदी पर बरसीं माया, सीबीआई के दुरूपयोग का आरोप

इंस्टेंट खबर ब्यूरो 

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी के संयोजक कांशीराम की पुण्यतिथि पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने केंद्र पर जमकर हमला बोला। राज्‍य की पूर्व सीएम मायावती ने दादरी की घटना को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा 'यह घटना बेहद निंदनीय है। मोदी सरकार ठीक से काम नहीं कर रही है और उसके बयान महज औपचारिकता भर हैं।

मायावती ने आरोप लगाया कि सांप्रदायिक दंगों से बीजेपी को फायदा मिलता है, इसलिए पीएम इस पर बोलने की बजाए चुप रहते हैं। उन्‍होंने कहा, दादरी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिया गया बयान राजनीतिक है।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार के इशारे पर सीबीआई उन्हें एनआरएचएम घोटाले में फंसा रही है। उन्होंंने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र की मोदी सरकार सीबीआई का गलत इस्तेमाल कर रही है।

उन्होंने कहा कि इससे पहले राजग सरकार उन्हें ताज कॉरिडोर मामले में फंसाने का असफल प्रयास कर चुकी है। उन्होंने पीएम मोदी पर दलितों, गरीबों और कमजोर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया। कोई भी ताकत उन्हें खरीद नहीं सकती और वह अंतिम सांस तक डरने वाली नहीं है। दलितों को उनके अधिकार दिलाने के लिए अपना संघर्ष जारी रखेगी।

उन्होंने कहा कि भाजपा कांशीराम के मिशन को कमजोर करने के लिए एनआरएचएम मामले में फंसाने के लिए सीबीआई का इस्तेमाल कर रही है। उन्होंने कहा कि उनका एनआरएचएम मामले से कोई लेना-देना नहीं है। जांच के नाम पर भाजपा सीबीआई की मदद से उनकी छवि धूमिल करने का प्रयास कर रही है।

मायावती ने कहा कि भाजपा मीडिया की मदद से उनके आन्दोलन को कमजोर करने की साजिश कर रही है। वह दलितों, अल्पसंख्यकों, गरीबों, पिछडों को उनके पैरों पर खडे करने की मुहिम को जारी रखेंगी। उनके खिलाफ कोई भी जांच केंद्र सरकार करवा ले, वह किसी जांच से डरने वाली नहीं है।

उन्‍होंने केंद्र पर राजनीतिक स्वार्थ के साथ काम करने का आरोप भी लगाते हुए कहा कि 'देश के अल्पसंख्यक असुरक्षित हैं। यूपी में जंगलराज का माहौल कायम है।' उन्‍होंने यह भी कहा कि 'मैं आरक्षण को ख़त्म नहीं होने दूंगी।

उन्‍होंने कहा, प्रदेश में भाजपा ने अपने राजनीतिक स्‍वार्थ से किस्‍म-किस्‍म के हथकड़े अपनाने शुरू कर दिया है। इस क्रम में प्रदेश के मुसलमानों के वोटों को बांटने के लिए भाजपा ने यहां हैदराबाद के मुस्लिम असदुद्दीन ओवैसी को सक्रिय कर दिया है। इनका इस्‍तेमाल पार्टी बिहार में भी रही है। इस कार्य के लिए पार्टी यहां पीस पार्टी का भी इस्‍तेमाल कर सकती है, ताकि प्रदेश के मुस्लिम लोगों के वोटों को बांटा जा सके। बीजेपी द्वारा सर्वसमाज में से गरीबों, दलितों और अन्‍य पिछड़े वर्गों के वोटों को भी बांटने का प्रयास किया जा रहा है।