MCA को है लापता ज़हीर की तलाश

MCA को है लापता ज़हीर की तलाश

रणजी 2015-16 का सत्र कुछ अनोखी घटनाओं के कारण लगातार चर्चा में है। तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा को दिल्ली टीम से बाहर किए जाने पर विवाद के बाद अब एक और तेज गेंदबाज की बारी है। जहीर खान और 40-बार की रणजी चैंपियन मुंबई चर्चा में हैं।     

मुंबई ने आंध्रप्रदेश और पंजाब के खिलाफ होने वाले पहले दो रणजी मैचों के लिए टीम की घोषणा कर दी है, लेकिन इसमें जहीर खान का नाम नदारद है। संडे मिड-डे की रिपोर्ट के अनुसार मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के संयुक्त-सचिव डॉ. उन्मेश खानविलकर ने कहा, 'पहले दो मैचों के लिए जहीर खान उपलब्ध नहीं हैं। जैसे ही वे अपने उपलब्ध होने की पुष्टि कर देंगे, उनके चयन पर विचार किया जाएगा।'    

एमसीए को यह नहीं पता कि जहीर कहां हैं। पहली नजर में उन्हें टीम में शामिल नहीं किए जाने का मुख्य कारण यही लगता है। टीम की घोषणा से पहले जहीर ने न तो सत्र से पूर्व लगाए गए ट्रेनिंग कैंपों में हिस्सा लिया और न ही सत्र से पहले आयोजित दो तैयारी शिविरों में उपस्थित हुए। इससे प्रश्न यह उठता है कि जहीर हैं कहां? इसके बारे में किसी को भी नहीं पता।    

जहीर का मामला उनके नई गेंद के जोड़ीदार रहे ईशांत शर्मा को कुछ दिन पहले ही दिल्ली टीम में विदर्भ के खिलाफ होने वाले पहले रणजी मैच में शामिल नहीं किए जाने के बाद सामने आया है। दिल्ली टीम के मुख्य चयनकर्ता विनय लांबा ने ईशांत के नहीं चुने जाने का कुछ ऐसा ही कारण बताया था।  

लांबा ने कहा था, 'हमने ईशांत से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन न तो उन्होंने फोन उठाया और न ही हमारे एसएमएस का जवाब दिया। इसके साथ ही हमें यह नहीं पता कि वे बैन के दौरान प्रथम श्रेणी के मैच खेल सकते हैं या नहीं। यदि वे खेलने के योग्य होंगे, तो उन्हें टीम में शामिल किया जाएगा।'

जहीर ने टीम इंडिया के लिए आखिरी टेस्ट फरवरी, 2014 में न्यूजीलैंड के वेलिंगटन में खेला था। तब से वे लगातार फिटनेस संबंधी समस्याओं से घिरे रहे और कंधे की चोट के कारण मुंबई की ओर से रणजी ट्रॉफी 2014-15 के सत्र में नहीं खेल पाए। आईपीएल-2015 में उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स टीम में शामिल किया गया था और उन्होंने सात मैचों में सात विकेट लिए थे। जहीर पहले ही रणजी 2015-16 के सत्र में मुंबई की ओर से खेलने की इच्छा व्यक्त कर चुके हैं।