होंडा वापस लेगाी 2.24 कारें, एयरबैग्स में डिफेक्ट

होंडा वापस लेगाी 2.24 कारें, एयरबैग्स में डिफेक्ट

नई दिल्ली। होंडा कार्स की भारतीय इकाई होंडा कार्स इंडिया लि. (एचसीआईएल) ने शुक्रवार को भारत से होंडा की कारों के बड़े रिकॉल की घोषणा की है। होंडा ने भारतीय बाजार से 2.24 लाख कारों को वापस लेने के लिए कहा है। इस रिकॉल को भारतीय बाजार का सबसे बड़ा रिकॉल माना जा रहा है। कंपनी सीआर-वी, सिविक, सिटी और जैज गाडियों को वापस लेगाी। होंडा के इस रिकॉल की वजह डिफेक्टिव एयरबैग्स हैं। कंपनी अब इनमें बदलाव करेगी। इससे पहले जनरल मोटर्स ने इसी साल भारत में 1.55 लाख कारों को वापस लिया था।

होंडा ने भारत में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में कारों को वापस लिया है। होंडा कार्स का 2.24 लाख कारों का यह रिकॉल भारतीय बाजार में सबसे बड़ा रिकॉल माना जा रहा है। इससे पहले 13 जुलाई 2015 को जनरल मोटर ने भारत में 1.55 लाख यूनि‍ट्स रि‍कॉल करने का ऎलान कि‍या है।

इस रिकॉल में कंपनी प्रीवियस जेनरेशन की सीआर-वी, सिविक, सिटी और जैज शामिल हैं। इससे सबसे ज्यादा प्रभावित कंपनी की एक्जीक्यूटिव सेगमेंट की सिडैन होंडा सिटी है, जिसकी 1,43,154 कारों के रिकॉल की घोषणा की गई है। इसमें 2007 से 2012 के बीच बेची गई होंडा सिटी को रिकॉल किया गया है। वहीं 2003 से 2012 के बीच बनी 54, 200 सिविक को रिकॉल किया जा रहा है।

कंपनी इन कारों को 12 अक्टूबर 2015 से वापस लेना शुरू करेगी। इसके तहत रिकॉल की गई कारों की देश भर में एचसीआईएल की डीलरशिप में मरम्मत की जाएगी, जिसके लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। कंपनी ने बताया कि ग्राहक अपने 17 अंकों वाले व्हीकल आइडेंटिफिकेशन नंबर की मदद से कंपनी की वेबसाइट पर भी पता लगा सकते हैं कि उनकी कार के इंफ्लेटर बदले जाने हैं या नहीं।