मस्जिद अल अक़्सा परिसर में घुसी इस्राईली पुलिस

मस्जिद अल अक़्सा परिसर में घुसी इस्राईली पुलिस

फिलीस्तीनियों किया विरोध, महमूद अब्बास ने  पुलिस कार्रवाई को हमला बताया 

यरुशलम: यहूदियों का नव वर्ष शुरू होने से ठीक पहले यरुशलम के अल-अक्सा मस्जिद परिसर में फिलिस्तीनियों और इस्राइल की पुलिस के बीच झड़प हो गई। इस्राइल के रक्षामंत्री मोशे यालून ने पिछले हफ्ते दो मुस्लिम समूहों को गैर कानूनी करार दिया था, जिनका परिसर में आने वाले यहूदी लोगों से टकराव हुआ था। यह परिसर दोनों ही धर्मों के लिए पवित्र स्थल है।

फिलिस्तीन के प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि पुलिस मस्जिद में घुसी और तोड़फाड़ करने लगी। यह मुसलमानों का तीसरा सबसे पवित्र स्थल है। वहीं पुलिस ने इतना ही बताया कि पथराव रोकने, आगजनी करने वाले और दूसरी वस्तुएं फेंकने वाले दंगाइयों को रोकने के लिए उसने मस्जिद के दरवाजे बंद कर दिए। पहले भी शांति कायम करने के लिए अधिकारी यही युक्ति अपनाते थे।

वहीं फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने अल-अक्सा मस्जिद में इस्राइली अधिकारियों की कार्रवाई को 'हमला' बताते हुए इसकी निंदा की। उनके कार्यालय से जारी एक बयान में कहा गया है, 'राष्ट्रपति अल-अक्सा मस्जिद पर सेना और पुलिस के हमले की और वहां मौजूद लोगों के प्रति आक्रामकता की कड़ी निंदा करते हैं।'