बदहाली का जीवन बिता रहे हैं गावं  के लोग: एहसानुल मालिक

बदहाली का जीवन बिता रहे हैं गावं के लोग: एहसानुल मालिक

पिछड़ा समाज महासभा के प्रतिनिधिमंडल बाराबंकी का दौरा किया

बाराबंकी: पिछड़ा समाज महासभा के एक प्रतिनिधिमंडल ने एहसानुल हक मालिक राष्ट्रीय अध्यक्ष पिछड़ा समाज महासभा के नेतृत्व में जनपद बाराबंकी के सदर तहसील राम सेन्ही घाट, फतेहपुर, गौस सिरोली, राम नगर का  दौरा किया।  इस दौरे में पिछड़ों दलितों मुसलमानों के शैक्षिक राजनीतिक और आर्थिक स्थिति का जायज़ा लिया गया। इस अवसर पर पिछड़ा समाज महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एहसानुल हक  मलिक ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि बाराबंकी जिले में विकास के नाम पर कुछ काम नहीं हुआ है यहाँ के राजनीतिक नेता केवल लोगों का राजनीतिक शोषण करते हुए आए हैं। ख़ास  तौर पर  यहां के किसान परेशान  हैं बारिश न होने के कारण धान पर प्रभाव पड़ रहा है । उधर समाज समाजवादी पार्टी भी अपने वादे से मुकर चुकी है 2012 के विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने किसानों से वादा किया  था कि अगर हम सत्ता में आए तो किसानों के कर्ज माफ कर देंगे, किसानों ने उन पर विश्वास किया और पूर्ण उन्हें वोट दिया लेकिन सत्ता में आए 3 साल से अधिक का समय हो चुका है लेकिन अभी तक इस दिशा में किसी तरह का काम  नहीं किया गया है। मालिक ने कहा कि अगर बारिश नहीं हुई और धान की फसल नष्ट हो गई तो इन गरीब किसानों को अधिक नुकसान उठाना पड़ेगा जो बैंक से ऋण लेकर फसल लगाते हैं। मालिक ने कहा कि सरकार जल्द से जल्द किसान आयोग का गठन करे ताकि किसानों की परेशानी दूर हो सके इस मौके पर मलिक ने कहा कि हम ने गावं गावं  जाकर लोगों की समस्याओं सुनी  उनके दुख दर्द को करीब से देखा हर कोई नेताओं से बेजार नज़र  आ रहा है लोगों का कहना है कि हम से बहला फुसलाकर वोट लिया गया लेकिन हम से जो वादा किया था उसे अभी तक पूरा नहीं किया गया। मालिक  ने कहा कि हम ने  कब्रिस्तान देखा एक भी कब्रिस्तान में चाहरदीवारी नजर नहीं आवारा  जानवर खुलेआम वहां आते.जाते हैं जबकि सरकार ने वादा किया था कि राज्य के सभी कब्रिस्तान की चाहर दीवारी  की जाए गी । इस तरह से वक्फ बोर्ड की  संपत्तियों पर अवैध कब्जा है मुस्लमान  बहुल क्षेत्रों में स्कूल की कमी है जिसकी वजह से मुस्लिम बच्चे शिक्षा से वंचित हैं। मालिक  ने कहा कि अभी भी समय है सरकार अपने वादे को पूरा करे वरना आने वाले विधानसभा चुनाव में इसका खामियाजा भुगतना पड़े मलिक ने कहा कि सरकार अपनी आँखें खोलें और गरीबों की हालत को देखते उनसे जो वादा किया था उन वादों को पूरा करे अन्यथा बुरे हालत के लिए तैयार रहे।

इस प्रतिनिधिमंडल में एहसानुल हक मालिक  सहित मोहम्मद अबू अशरफ, मोहम्मद तुफैल, मोहम्मद शम्स रजा, इरशाद अहमद  मोहम्मद असलम, मोहम्मद रईस, एहतेशाम अलीए मुमताज अली, चांद बाबू, मोहम्मद नसीर, मोईनुद्दीन, अनवारुल अहमद बेग शामिल रहे।

Uttar Pradesh, India