मारीशस में होगा शिवपाल का सम्मान

मारीशस में होगा शिवपाल का सम्मान

सयुक्त राष्ट्र संघ हिन्दी को दे आधिकारिक दर्जा: शिवपाल 

लखनऊ: मारीशस के प्रख्यात साहित्यकार और फ्रेंच, अंग्रेजी तथा हिन्दी के प्रकाशित पत्रिका “इंद्रधनुष” के संपादक प्रहलाद रामशरण ने इण्डो-मारीशस सोशलिस्ट काउन्सिल के अध्यक्ष शिवपाल सिंह आज उनके सरकारी आवास लखनऊ मे मुलाकात कर वहां के हिन्दी भाषियों, भोजपुरिया जमात और इण्डो-मारीशस सोशलिस्ट काउन्सिल के पदाधिकारियों की तरफ से मारीशस आमंत्रित किया है। शिवपाल सिंह को मारीशस, सम्मान और “वैश्विक समाजवाद” पर व्याख्यान हेतु आमंत्रित किया गया है।

शिवपाल ने इस अवसर पर हिन्दी को संयुक्त राष्ट्र संघ की आधिकारिक भाषा का दर्जा दिए जाने की मांग पर व्यापक समर्थन देने के लिए मारीशस के लेखकों व बुद्धिजीवियों को धन्यवाद दिया है और जोर देकर कहा कि हिन्दी को आधिकारिक भाषा की मान्यता होने से न केवल भारतीय अपितु भारत से बाहर रह रहे सभी हिन्दी साथियों का कद बढ़ेगा। इससे यू0एन0ओ0 का भी विस्तार होगा और एक बड़ी आबादी में विश्व संस्था की स्वीकारिता बढ़ेगी। उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि इस दिशा में 10 सितम्बर से होने वाला 10 वां विश्व हिन्दी सम्मेलन मील का पत्थर साबित होगा। उल्लेखनीय है कि भारत को सुरक्षा परिषद की स्थायी सदस्यता और हिन्दी को आधिकारिक भाषा का दर्जा देने हेतु व्यापक वैश्विक अभियान शिवपाल के मार्गदर्शन व समाजवादी चिन्तक दीपक मिश्र के संयोजन में चल रहा है। शिवपाल सिंह इस सन्दर्भ में सयुक्त राष्ट्र के महासचिव वान की मून, अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा समेत कई वैश्विक नेताओं को पत्र लिख चुके है।

शिवपाल ने श्री प्रहलाद को लोहिया व मुलायम की जीवनी “लोहिया, समाजवाद व हिन्दी” कुबेर मिश्र की ”मोरिशस के भोजपुरी लोकगीतों का विवेचनात्मक अध्ययन” समेत कई समाजवादी साहित्य देते हुए लोहिया पर मारीशस से विशेषांक निकालने का आग्रह किया, जिसे प्रहलाद रामशरण ने स्वीकार कर लिया। शिवपाल शीघ्र ही मारिशस जायेेंगे और वहा के हिन्दी भाषियों और समाजवादियों से संवाद करेंगे।

इस अवसर पर मंत्री श्री बलराम यादव, श्री सुरेन्द्र सिंह पटेल, एवं समाजवादी बौद्धिक सभा के चिन्तक श्री दीपक मिश्रा, वरिष्ठ पत्रकार श्री शम्भू दयाल बाजपेयी, राजेन्द्र सिंह मौजूद थे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India