कोर्ट रूम में बेहोश हुई इंद्राणी

कोर्ट रूम में बेहोश हुई इंद्राणी

तीनों आरोपियों की हिरासत 5 सितंबर तक बढ़ी 

मुंबई : शीना बोरा हत्याकांड में पुलिस ने इंद्राणी मुखर्जी, संजीव खन्ना और ड्राइवर श्याम राय को सोमवार को बांद्रा कोर्ट में पेश किया। पुलिस ने तीनों आरपियों की हिरासत और बढ़ाए जाने की मांगी की जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया। कोर्ट ने तीनों आरोपियों की पुलिस हिरासत पांच सितंबर तक बढ़ा दी। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्या की कोशिश का मामला भी जोड़ा और कहा कि वे संजीव खन्ना का पासपोर्ट बरामद करना चाहते हैं। आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 328 (जहर देकर नुकसान पहुंचाना) भी लगायी गयी।

कोर्ट रूम में अपनी मां की यह हालत देखकर विधि विधि भी पूरी तरह टूट गई और रोने लगी। मीडिया रिपोर्टों के मुताबकि कोर्ट के हिरासत की अवधि बढ़ाए जाने के कोर्ट के फैसले को सुनते ही इंद्राणी बेहोश हो गई।

सुनवाई शुरू होने पर जज ने इंद्राणी से पूछा कि पुलिस से कोई शिकायत है, तो इंद्राणी ने उसका जवाब ना में दिया। गौरतलब है कि इंद्राणी ने वकील ने आरोप लगाया था कि इंद्राणी से पूछताछ के दौरान पुलिस ने मारपीट की है। हालांकि जज के सवाल पर इंद्राणी ने इससे इनकार किया।

इंद्राणी मुखर्जी के वकीलों ने दावा किया है कि पुलिसवाले उनके क्लायंट के साथ पूछताछ के दौरान मारपीट कर रहे हैं। एक मीडिया रिपोर्ट में इंद्राणी की लीगल टीम के सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि पुलिसवालों के इंद्राणी के साथ मारपीट करने की शिकायत मुंबई पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया से की गई है। शिकायत में कहा गया है कि पुलिस इंद्राणी का इकबालिया बयान लेने के लिए दबाव बना रही है। उधर, मामले से जुड़े बहुत सारे पुलिसवालों ने कहा है कि इंद्राणी ने बीते दो दिन से पुलिस जांच में सहयोग करना बंद कर दिया है।

India