50 लाख बिहारी मोदी को भेजेंगे DNA सैंपल

50 लाख बिहारी मोदी को भेजेंगे DNA सैंपल

नितीश प्रधानमन्त्री के खिलाफ चलाएंगे शब्द वापसी अभियान 

नई दिल्‍ली: बिहार विधानसभा चुनाव के पहले राजनीति गरमा गई है। राज्‍य के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डीएनए वाले बयान के खिलाफ मोर्चा खोलने का ऐलान कर दिया है। नीतीश ने पीएम के इस बयान को बिहार और बिहार के लोगों का अपमान बताते हुए इसे वापस लेने की मांग की है। उन्‍होंने इसके खिलाफ शब्दवापसी /TakeBackYourWords अभियान चलाने की घोषणा भी की है। साथ ही 50 लाख लोग प्रधानमंत्री मोदी को अपना DNA सैंपल भी भेजेंगे। नीतीश ने आज ट्वीट कर ये जानकारी दी।

नीतीश ने ट्वीट कर कहा, 'DNA पर मोदीजी का वक्तव्य बिहार और बिहार के लोगों का अपमान हैं। लोकतंत्र में जनता सर्वोपरी है। अब इस विषय का फैसला जनता की अदालत में होगा।' साथ ही आगे कहा, 'शब्दवापसी के इस महाअभियान में कम से कम 50 लाख बिहार के लोग हस्ताक्षर अभियान से जुड़ेंगे और DNA टेस्ट्स के लिए अपना सैंपल भी मोदीजी को भेजेंगे।'

  उन्‍होंने ट्वीट में आगे कहा, 'इस महीने के 29 तारीख को पटना के गांधी मैदान में 'स्वाभिमान रैली' के साथ इस अभियान के पहले चरण को पूरा किया जाएगा। सितम्बर में अभियान के दूसरे चरण में शब्दवापसी हेतु हस्ताक्षर और DNA सैंपल भेजने के इस अभियान को हम बिहार के कोने कोने में हर घर तक ले जाएंगे और साथ ही राज्य के 4 से 5 क्षेत्रों में स्वाभिमान रैलियां भी आयोजित करेंगे।'

  नीतीश ने कहा, 'DNA के अपने वक्तव्य को वापस न लेने की मोदीजी की हठधर्मिता और फिर कल गया रैली में बिहार को बीमारू और लोगों को दुर्भाग्यशाली बताना अशोभनीय है। हमारा यह विश्वास है कि बिहार और बिहार की जनता को अपमानित करने वालों को यहां की जनता माकूल जवाब देगी।'

India