भारत के खिलाफ खेलकर संन्यास लेना चाहते हैं मिस्बाह

भारत के खिलाफ खेलकर संन्यास लेना चाहते हैं मिस्बाह

नई दिल्ली : अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के अंतिम पड़ाव पर चल रहे पाकिस्तान के टेस्ट कप्तान मिसबाह उल हक ने कहा है कि अगर साल के अंत में भारत के खिलाफ बहुप्रतीक्षित श्रृंखला हुई तो वह इसके बाद संन्यास ले लेंगे।

मिसबाह ने बातचीत के दौरान कहा, ‘मुझे अच्छी तरह पता है कि मेरे अंदर काफी क्रिकेट नहीं बचा है। हां, मैं कुछ और टेस्ट मैच खेलना चाहता हूं और मैं क्रिकेट के बाद के जीवन के बारे में सोच रहा हूं। लेकिन मेरी योजना है। अगर भारत के खिलाफ श्रृंखला होती है तो मैं यह श्रृंखला खेलना चाहता हूं और संभवत: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेना चाहता हूं। भारत श्रृंखला मेरी अंतिम श्रृंखला हो सकती है।’ 

टी20 अंतरराष्ट्रीय और एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से पहले ही संन्यास ले चुके मिसबाह ने सिर्फ लंबे प्रारूप में खेलने वाले क्रिकेटरों की मुश्किलें और फायदे भी गिनाए। उन्होंने कहा, ‘आप इस पहलू को दो तरह से देख सकते हैं। अगर मुश्किल की बात करें तो श्रृंखलाओं के बीच का अंतर क्रिकेटर की फार्म को प्रभावित कर सकता है। ऐसे क्रिकेटर का उदाहरण लीजिए जो तीनों प्रारूपों में खेलता है। वह क्रिकेटर पूरे साल खेलता है और आसानी से एक प्रारूप से दूसरे प्रारूप में सामंजस्य बैठा लेता है।’