टापू बन गया उज्जैन

टापू बन गया उज्जैन

उज्जैन। कल से हो रही लगातार बारिश ने शहर का मंजर बदल दिया है। क्षिप्रा नदी के छोटी रपट के ऊपर पानी भर गया है। बारिश की वजह से शहरवासियों की दिनचर्या भी खासी प्रभावित हो रही है। कई बस्तियों में पानी भर गया है। डेम भी लबालब हो गया जिसकी वजह से तीन गेट खोले जाने की सूचना है।

अंगारेश्वर महादेव भी पूरी तरह जलमग्न हो चुका है। नानाखेड़ा बस स्टैंड, संत नगर, ऋषि नगर ईडब्ल्यूएस, गांधी नगर, एकता नगर, लोहार पट्टी करीब-करीब शहर की पचास से ज्यादा कॉलोनी जलमग्न हैं। बारिश की वजह से लोगों के घरों में पानी भर गया है। गृहस्थी का सामान भी डूब चुका है। जिसकी वजह से खुद को बचाने लोग छतों पर आकर बैठे हैं।

बारिश की वजह से एक दिन बाद ही हालात इंदौर जाने वाली बसें बंद हो गई हैं। दिल्ली से उज्जैन आने वाली दिल्ली-नागदा का मार्ग भी बदला गया है। जिसकी वजह से ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को भी खासी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। एकता नगर निवासी संतोष मरमत ने बताया कि प्रशासन की ओर से कोई भी नहीं पहुंचा। बारिश की वजह से अब तक होने वाली परेशानियों को वे खुद ही दूर करने की कोशिश कर रहे हैं। उज्जैन महाकाल मंदिर के प्रवचन हॉल में पांच फीट तक पानी भर गया है। मंदिर प्रशासन ने इस क्षेत्र को बंद कर दिया है।

रतलाम रेल मंडल के उज्जैन में भारी बारिश के कारण आज रेल यातायात प्रभावित हो गया है। इससे कई गाडिय़ां जहां देरी से चल रही हैं वहीं कुछ के मार्ग भी परिवर्तित कर दिए गए हैं। अहमदाबाद-बनारस साबरमती एक्सप्रेस, मुंबई-इंदौर अवंतिका एक्सप्रेस, इंदौर-जोधपुर, इंदौर-उदयपुर एक्सप्रेस, जयपुर-भोपाल एक्सप्रेस देरी से चल रही हैं। वहीं निजामुद्दीन-इंदौर को वाया रतलाम, फतेहाबाद-मुंबई इंदौर-दुरंतो एक्सप्रेस वाया रतलाम, फतेहाबाद जम्मूतवी, इंदौर मालवा वाया मक्सी देवास इंदौर जम्मूतवी वाया देवास, मक्सी के मार्ग परिवर्तित कर दिए गए हैं।

India