रेशम केन्द्रों पर जाकर किया जाय कार्यों का सत्यापन: शिव कुमार बेरिया

रेशम केन्द्रों पर जाकर किया जाय कार्यों का सत्यापन: शिव कुमार बेरिया

लखनऊ: नवीन जनपदों में स्थापित किये जा रहे रेशम केन्द्रों पर किये गये कार्यों का सत्यापन टीम भेजकर कराये जाय तथा शहतूत, टसर व एरी सेक्टर के वार्षिक लक्ष्य में और अधिक वृद्धि की जाय। ये उद्गार रेशम एवं वस्त्र उद्योग मंत्री श्री शिव कुमार बेरिया ने आज रेशम निर्देशालय, उ0प्र0 गोमती नगर, लखनऊ के सभागार में रेशम विभाग की समीक्षा करते हुए व्यक्त किये ।

रेशम व वस्त्र उद्योग मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सिल्क एक्सचंेज वाराणसी में सिल्क प्रमोटर की तैनाती के संबंध में एक सप्ताह में निर्णय लिये जाय । कैटलाटिक विकास परियोजना (सी0डी0पी0) के अन्तर्गत धनराशि के व्यय में सुधार लाये तथा उपकरणों के क्रय हेतु ई-टेन्डर का प्रकरण शीघ्र निस्तारित कराये जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि किसानों को केन्द्रीय रेशम बोर्ड के मानकीकृत संस्थानों में ही प्रशिक्षण प्रदान कराये जाय।

श्री बेरिया ने निर्देश दिया कि बी0डी0सी0 की बैठकों में सभी अधिकारी प्रतिभाग करें तथा आगामी बैठक में प्रगति प्रस्तुत करें। उन्होंने शासन स्तर पर लम्बित जांचों को 15 दिन के अन्दर निस्तारित कराने के निर्देश दिये तथा सितम्बर के प्रथम सप्ताह में पुनः समीक्षा बैठक बुलाने के निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि किसी कर्मचारी/अधिकारी के विरूद्ध जांच तभी शुरू की जाय जब उसकी सत्यता सिद्ध हो जाय। 

रेशम व वस्त्र उद्योग मंत्री ने कार्य की प्रगति न बताने वाले अधिकारियों के विरूद्ध सख्त कारवाई करने  के निर्देश दिये है। उन्होंने बांदा के लिपिक श्री गुलेर अहमद अंसारी को अकर्मण्यता तथा कर्तव्य में लापरवाही बरतने के कारण निलंबित करने के निर्देश दिये।

प्रमुख सचिव नवतेज ंिसंह कहां कि निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप अधिकारी कार्य करें तथा शासन के निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करायें।

Lucknow, Uttar Pradesh, India