मां का किरदार निभाने में कोई आपत्ति नहीं: सनम सईद

मां का किरदार निभाने में कोई आपत्ति नहीं: सनम सईद

सनम सईद ब्रिटिश पाकिस्तानी अभिनेत्री और माॅडल हैं। उन्होंने जिंदगी के ब्लाॅकबस्टर शो ‘जिंदगी गुलज़ार है‘ में आत्म-निर्भर लड़की ‘कशाफ मुर्तजा‘ का किरदार निभाकर लाखों दर्शकों का दिल जीता है। ‘जिंदगी गुलज़ार है‘ भारतीय टेलीविजन पर सनम का डेब्यू शो था। उसके बाद, सनम ने ‘रंजिश‘ और ‘मेरी जान है तू‘ में अपने शानदार परफाॅर्मेंस से देश भर के दर्शकों के दिलों पर कब्जा जमाये रखा। लोकप्रिय और करिश्माई अभिनेत्री सनम सईद को ‘किसी की खातिर‘ में बीबी का प्रमुख किरदार निभाते हुये देखा जा रहा है। यह एक बेहद पूर्वानुमानित शो है, जिसमें उन लोगों की रूढ़वादी मानसिकता को दिखाया गया है, जिनके लिये उनका पैतृक गर्व सबकुछ होता है और जो जाति प्रणाली का सख्ती से पालन करते हैं। किसी की खातिर का प्रसारण जिंदगी पर सोमवार से शनिवार, रात 10 बजे किया जाता है। उनके शो किसी की खातिर से जुड़े खास इंटरव्यू में सनम ने कहा कि उन्हे मां का किरदार निभाने में कोई आपत्ति नहीं है। 

सवाल: ‘किसी की खातिर‘ शो में अपनी भूमिका के बारे में बतायें? 

जवाब: मैं बीबी का किरदार निभा रही हूं, जोकि एक आत्मनिर्भर महिला है और उसमें अपना रास्ता खुद चुनने की हिम्मत और ताकत है। वह एक दमदार सिंगल मदर है, जो संघर्ष कर रही है और अपने दो बच्चों के साथ अपने मायके लौट आती है। 

सवालः आपने यह किरदार निभाना क्यों कबूल किया? 

जवाब: जब निर्देशक खालिद अहमद ने मुझसे यह किरदार निभाने के लिये सम्पर्क किया, तो मैंने पूरी स्क्रिप्ट पढ़ी और फिर मैंने हां करने के लिये दूसरी बार नहीं सोचा। लेखक बी गुल ने बेहद खूबसूरती से काम किया है। मुझे स्क्रिप्ट पसंद आई। यह शानदार स्क्रिप्ट थी। मुझे खुशी है कि मुझे यह शो करने का मौका मिला, जोकि एक सुदृढ़ आत्मनिर्भर मां ‘बीबी‘ की कहानी है। बीबी दो जुड़वा बच्चों की मां है। मुझे इस शो में काम करके वाकई में बहुत मजा आ रहा है और बच्चों के साथ मैं बहुत अच्छा समय बिताती हूं।

सवाल : आप महज 30 साल की उम्र में एक मां का किरदार निभा रही हैं। क्या आपको ऐसी भूमिकायें निभाने में डर नहीं लगता? 

जवाब: मुझे मां का किरदार निभाने में कोई आपत्ति नहीं है। मुझे अपनी उम्र और छवि पर भरोसा है। सच कहूं, तो मैं अपनी उम्र से अधिक जवां नजर आती हूं। यदि भूमिका अच्छी हो और स्क्रिप्ट मुझे पसंद आती है, तो मुझे बुजुर्ग किरदार निभाने से कोई परहेज नहीं है। फिर चाहे यह मां का ही रोल क्यों न हो।