आंध्र प्रदेश के कई थानों टीआरएस चीफ के विरुद्ध FIR

आंध्र प्रदेश के कई थानों टीआरएस चीफ के विरुद्ध FIR

हैदराबाद। तेलुगू देशम पार्टी ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव के खिलाफ आंध्र प्रदेश के विभिन्न पुलिस थानों में सोमवार को मामला दर्ज कराया। तेदेपा ने तेलंगाना सरकार पर आंध्र के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू की छवि खराब करने की साजिश करने का आरोप लगाया है।

यह घटनाक्रम ऎसे समय में सामने आया है, जब एक ऑडियो टेप जारी हुआ है जिसमें तेलंगाना के मनोनीत विधायक एल्विस स्टीफन्सन और चंद्रबाबू नायडू के बीच बातचीत का जिक्र है, जो कुछ चैनलों में प्रसारित हो रहा है।

तेदेपा नेताओं ने इसे नायडू सरकार की छवि खराब करने की साजिश करने का आरोप लगाते हुए इस मामले में तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव, वहां के एंटी-करप्शन ब्यूरो  और कुछ टीवी चैनलों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

कृष्णा, गुंटुर, विशाखापट्टनम और पश्चिमी गोदावरी जिले के विभिन्न पुलिस थाने में मामले दर्ज कराए गए हैं। राव के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने वालों ने आंध्र प्रदेश के सिंचाई मंत्री उमामहेश्वर राव और कुछ विधायक शामिल हैं। उनका दावा है कि तेलंगाना राष्ट्र समिति  सरकार ने नायडू की छवि खराब करने के लिए कुछ टीवी चैनलों द्वारा प्रसारित ऑडियो में छेड़छाड़ की है।

ऑडियो टेप रविवार रात कुछ चैनलों पर प्रसारित हुई थी। इनमें से एक टी न्यूज पर टीआरएस का स्वामित्व है। साजिश तथा जालसाजी से जुड़े भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

आंध्र प्रदेश के विभिन्न हिस्से में तेदेपा नेता और कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए। उन्होंने चंद्रशेखर राव के खिलाफ नारेबाजी की और उनका पुतला जलाया। आंध्र सरकार ने टेप में नायडू की आवाज होने से इंकार करते हुए कहा कि वह इसके खिलाफ कानूनी, संवैधानिक और राजनीतिक रूप से लड़ाई लड़ेगी।

ऑडियो टेप जारी होने से तीन दिन पहले तेलंगाना के गृह मंत्री एन.नरसिम्हा रेड्डीी ने कहा था कि सरकार के पास इस बात के सबूत हैं कि नायडू ने स्टीफन्सन तथा टीआरएस के कुछ विधायकों से बात कर तेदेपा-भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में वोट देने को लेकर उन्हें प्रलोभन दिया था।

तेलंगाना विधानसभा में तेदेपा सदस्य रेवनाथ रेड्डी को 31 मई को एसीबी ने उस वक्त गिरफ्तार किया था, जब उन्होंने तेलंगाना विधान परिषद के चुनाव में तेदेपा-भाजपा उम्मीदवार को वोट देने के लिए मनोनीत विधायक स्टीफन्सन को 50 लाख रूपए के रिश्वत की पेशकश की। एसीबी ने स्टीफन्सन की शिकायत पर जाल बिछाया था। इसने रेवनाथ के सहयोगियों सेबेस्टियन हैरी और उदय सिन्हा को भी गिरफ्तार किया है।

India