बिहार के अफसर मिटायेंगे दिल्ली का करप्शन

बिहार के अफसर मिटायेंगे दिल्ली का करप्शन

केजरीवाल ने ACB में बिहार के पांच अफसरों को शामिल किया 

नई दिल्ली: दिल्ली में अरविंद केजरीवाल सरकार और उपराज्यपाल नजीब जंग के बीच एक और विवाद पैदा हो सकता है। केजरीवाल सरकार ने अपनी एंटी करप्शन ब्रांच के लिए बिहार से पांच पुलिस अफसरों लेने का फैसला किया है। बताया जा रहा है कि इनमें से तीन अफसर दिल्ली में ज्वाइन भी कर चुके हैं। रिपोर्ट के मुताबिक बिहार से पुलिस अधिकारियों को लेने के लिए दिल्ली में नीतीश कुमार और केजरीवाल के बीच हुई मुलाकात के वक्त सहमति बनी थी।

मालूम  हो कि दिल्ली सरकार और केन्द्र के बीच पहले से ही अपने-अपने कार्यक्षेत्र को लेकर विवाद चल रहा है और एलजी के अधिकारों को लेकर गृह मंत्रालय के नोटिफिकेशन का मामला पहले से ही सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है। इससे पहले बिहार पुलिस ने हाल ही में बताया था कि उसके छह अफसर एक डीएसपी और पांच इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर एसीबी ज्वाइन करेंगे। इनमें से तीन ऑफिसर्स ने ड्यूटी ज्वाइन कर ली है। सवाल यह भी उठता है कि क्या इन नियुक्तियों से पहले लेफ्टिनेंट गवर्नर से राय ली गई थी?

अफसरों की नियुक्ति के मसले पर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष बरखा सिंह ने केजरीवाल पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि एसीबी अधिकारियों की नियुक्ति राज्यपाल को सूचित किये बिना लेना ठीक नहीं है। उन्होंने केजरीवाल पर संविधान का आदर नहीं करने का भी आरोप लगाया।

उधर उप राज्यपाल निवास ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि एसीबी एलजी के तहत आता है। और दूसरे राज्यों से बुलाए गए अधिकारियों पर उसके पास कोई जानकारी नहीं है।गौरतलब है कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल सरकार ने एंटी करप्शन ब्यूरो के लिए बिहार पुलिस से अफसर उधार लिए हैं। दिल्ली सरकार ने एक डीएसपी और पांच इंस्पेक्टर और सब इंस्पेक्टर रैंक के अफसर बुलाए हैं।

India