सैन्य कार्रवाई से नहीं रोक जा सकता ईरान का एटमी प्रोग्राम: ओबामा

सैन्य कार्रवाई से नहीं रोक जा सकता ईरान का एटमी प्रोग्राम: ओबामा

येरूशलम: ईरान के साथ परमाणु संधि के मुद्दे पर संशय से घिरी इजराइली जनता तक एक साक्षात्कार के माध्यम से अपनी बात पहुंचाते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि ईरान को परमाणु हथियार हासिल करने से सिर्फ समझौते के जरिए रोका जा सकता है, सैन्य कार्रवाई के जरिए नहीं।

ओबामा ने कहा, ‘मेरा मानना है कि किसी उम्मीद के आधार पर नहीं, बल्कि तथ्यों, साक्ष्यों और विश्लेषण के आधार पर मैं दिखा सकता हूं कि ईरान को परमाणु हथियार हासिल करने से रोकने का सर्वोत्तम तरीका एक प्रमाण योग्य एवं कड़ा समझौता है।’ ओबामा का यह बयान ऐसे समय पर आया है, जब ईरानी समझौते के लिए जून के अंत में पड़ने वाली अंतिम तिथि तेजी से निकट आ रही है।

इजराइली चैनल 2 टीवी के खोजी कार्यक्रम ‘उव्दा’ में ओबामा ने साक्षात्कार के कुछ अंशों में कहा, ‘सैन्य हल इसे नहीं सुलझाएगा। यदि अमेरिका इसमें भागीदारी करता भी है तो भी इसमें सिर्फ अस्थायी कमी आएगी लेकिन इससे यह खत्म नहीं होगा।’ पूरे साक्षात्कार का प्रसारण आज होगा। इजराइल ने कहा है कि ईरान के साथ यह परमाणु समझौता कोई अच्छी संधि नहीं है और ईरान को बम हासिल करने से रोकने के लिए सैन्य कार्रवाई का विकल्प अब भी मौजूद है।

ओबामा और इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के बीच के रिश्ते पिछले कुछ समय में तनावपूर्ण रहे हैं और ईरान का मुद्दा पारंपरिक रूप से एक दूसरे के सहयोगी कहलाने वाले इन देशों के बीच विवाद का विषय रहा है। ओबामा ने इस संधि को लेकर संशयग्रस्त इजराइली जनता को शांत करने की कोशिश करते हुए कहा, ‘मैं आपकी चिंताएं समझता हूं और मैं आपके डर को भी समझता हूं।