विवेक मूर्ति बने अमेरिका के सर्जन जनरल

विवेक मूर्ति बने अमेरिका के सर्जन जनरल

फोर्ट मेयर (वर्जीनिया): भारतीय मूल के 37 वर्षीय अमेरिकी विवेक मूर्ति को अमेरिका के उपराष्ट्रपति जो बाइडन ने आज यहां एक समारोह में देश के सर्जन जनरल की शपथ दिलायी। वह देश के जनस्वास्थ्य के प्रभारी बनने वाले सबसे कम उम्र के शख्स हैं।

मूर्ति अब ओबामा प्रशासन में भारतीय मूल के शीर्ष अमेरिकी अधिकारी हो गए हैं। उन्होंने गीता पर हाथ रखकर अपने पद की शपथ ली। उन्होंने यहां सैन्य अड्डे पर इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा, सर्जन जनरल के रूप में सेवा का मौका मिलना असाधारण सम्मान और बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। इस पद की जिम्मेदारी मेरे कंधों पर डालने के लिए मैं राष्ट्रपति ओबामा को धन्यवाद देना चाहता हूं।

मूर्ति अमेरिका के 19 वें सर्जन जनरल हैं। सर्जन जनरल की वेबसाईट के अनुसार उन्होंने हार्वर्ड से स्नातक डिग्री हासिल की थी। वहां से उन्होंने मेडिकल डिग्री तथा येल विश्वविद्यालय से कारोबार प्रबंधन में स्नातकोत्तर की डिग्री हासिल की। ब्रिघम एंड वूमेंस हॉस्पिटल में प्रैक्टिस करने के अलावा उन्होंने 2009 में हजारों डाक्टरों के एक गैरलाभकारी संगठन डॉक्टर्स फार अमेरिका बनाकर राष्ट्रपति ओबामा की स्वास्थ्य पहलों का समर्थन किया था।