महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव: कांग्रेस के लिए प्रचार नहीं करेंगे संजय निरुपम

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव: कांग्रेस के लिए प्रचार नहीं करेंगे संजय निरुपम

नई दिल्ली: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. महाराष्ट्र कांग्रेस के दिग्गज नेता संजय निरुपम पार्टी से नाराज हो गए हैं और वह चुनाव प्रचार नहीं करेंगे. संजय निरुपम ने कहा कि मैंने एक उम्मीदवार की सिफारिश की थी, लेकिन उसे भी टिकट नहीं दिया गया है. संजय निरुपम ने ट्वीट किया, ' ऐसा लगता है कि कांग्रेस पार्टी अब मेरी सेवाएं नहीं चाहती है. मैंने विधानसभा चुनाव के लिए मुंबई में सिर्फ एक नाम की सिफारिश की थी. सुना है कि इसे भी खारिज कर दिया गया है. जैसा कि मैंने पहले नेतृत्व को बताया था, उस स्थिति में मैं चुनाव प्रचार में भाग नहीं लूंगा. यह मेरा अंतिम निर्णय है.' बता दें कि संजय निरुपम को इस साल की शुरुआत में मुंबई कांग्रेस प्रमुख के पद से हटा दिया गया था.

बता दें कि कांग्रेस-एनसीपी ने 2014 में विधानसभा चुनाव अलग-अलग लड़ा था. तब कांग्रेस और राकांपा के बीच सीट बंटवारे पर सहमति नहीं बन पाई थी, जिसके बाद पवार की पार्टी ने 15 साल पुराने गठबंधन को तोड़ लिया था. पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 42 तो एनसीपी ने 41 सीटों पर जीत दर्ज की थी. 2014 के इन चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी भाजपा को 122 सीटें मिली थीं. कांग्रेस और NCP के बीच आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर हुए गठजोड़ से पहले दोनों ही दलों से कई प्रमुख नेता साथ छोड़कर जा चुके हैं. इनमें से राकांपा से ज्यादा नेता गए हैं. इनमें से कई नेताओं ने भाजपा का तो कुछ ने शिवसेना का दामन थामा है.

बता दें कि महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को मतदान होगा और मतगणना 24 अक्टूबर को होगी. नॉमिनेशन भरने की आखिरी तारीख 4 अक्टूबर को होगी और नामांकन वापस लेने की तारीख 7 अक्टूबर को होगी. लोकसभा चुनावों के बाद यह इस साल के पहले राज्य चुनाव हैं. हरियाणा विधानसभा का कार्यकाल 2 नवंबर को और महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल 9 नवंबर को खत्म हो रहा है.