कमलनाथ, ज्योतिरादित्य की सोनिया के सामने पेशी 12 सितम्बर को

कमलनाथ, ज्योतिरादित्य की सोनिया के सामने पेशी 12 सितम्बर को

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के पद को लेकर जमकर घमासान मचा हुआ है. पार्टी नेता एकदूसरे के खिलाफ जमकर बयानबाजी भी हो रही है. अब यह मामला कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी तक पहुंच गया है. सोनिया गांधी ने मध्य प्रदेश के नए अध्यक्ष का फैसला करने के लिए 12 सितंबर को दिल्ली में बैठक बुलाई है. सोनिया ने कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया को इस बैठक में भाग लेने के लिए दिल्ली बुलाया है. माना जा रहा है कि इन दोनों ही नेताओं की सोनिया गांधी के साथ बैठक होगी और इसमें नए प्रदेश अध्यक्ष के नाम पर विचार होगा.

सूत्रों के मुताबिक सोनिया गांधी चाहती हैं कि जो भी नया अध्यक्ष बने वह कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया की सहमति से ही बने. उससे पहले 10 सितंबर को ज्योतिरादित्य सिंधिया की सोनिया गांधी से मुलाकात होनी है जिसमें वह प्रदेश अध्यक्ष को लेकर अपनी पसंद-नापसंद बताएंगे.

सिंधिया खुद भी प्रदेश अध्यक्ष पद की रेस में है लेकिन दिग्विजय सिंह उनका खुलकर विरोध कर रहे हैं, वहीं कमलनाथ भी चाहते हैं कि उनकी जगह किसी आदिवासी नेता को प्रदेश अध्यक्ष बना दिया जाए.