पाकिस्तान के एक और पूर्व प्रधानमंत्री गिरफ्तार

पाकिस्तान के एक और पूर्व प्रधानमंत्री गिरफ्तार

इस्लामाबाद: पाकिस्तान में गिरफ्तारियों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। भ्रष्टाचार के कथित आरोपों का सामना करने के बाद जेल में बंद नवाज शरीफ के बाद अब एक और पूर्व प्रधानमंत्री पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी की गिरफ्तारी हुई है। पाकिस्तान मुस्लिम लीग अब्बासी को आज पाकिस्तान की राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) ने प्राकृतिक गैस (LNG) आयात अनुबंध से संबंधित अरबों रुपये के घोटाले में गिरफ्तार किया गया है।

पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, यह गिरफ्तारी तब हुई जब अब्बासी एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करने के लिए जा रहे थे और ठोकर नियाज बेग स्थित टोल प्लाजा पर उनकी गिरफ्तारी हुई। एनएबी ने एलएनजी मामले में आज ही अब्बासी को समन जारी किया था। एनएबी के नोटिस में कहा गया है, 'आपसे अनुरोध है कि एलएनजी टर्मिनल पर पेट्रोलियम और प्राकृतिक संसाधन मंत्री के रुप में आपके बयान की रिकॉर्डिंग के लिए आपको 18 जुलाई की सुबह 10 बजे एनएबी इस्लामाबाद में उप-निदेशक मलिक जुबैर अहमद के समक्ष उपस्थित होना है'

अब्बास पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप हैं। पाकिस्तान के अध्यादेश, 1999 की धारा 9 (ए) के तहत भ्रष्टाचार और भ्रष्ट आचरण के अपराध का आरोप है। नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) ने अब्बासी की गिरफ्तारी को लेकर ट्वीट करते हुए सरकार की आलोचना की है। नवाज शरीफ के भाई शाहबाज शरीफ ने कहा कि एनएबी नाजी इमरान खान के हाथों में है। अब्बासी की गिरफ्तारी से हम डरने वाले नहीं हैं।

आपको बता दें कि नवाज शरीफ इस समय जेल में बंद है। 2016 में पनामा पेपर लीक मामले में नाम आने के बाद पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें अयोग्य करार दे दिया था जिसके बाद उन्हें पद छोड़ना पड़ा। 69 वर्षीय नवाज शरीफ 24 दिसंबर 2018 से लाहौर के कोट लखपत जेल में बंद हैं और भ्रष्टाचार के मामले में सजा काट रहे हैं। हाल ही में नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज ने इमरान खान पर निशाना साधते हुए कहा था कि उनके पिता को फर्जी मुकदमे में जेल भेजा गया है।

नवाज ने अपने इलाज के लिए हाल ही में जमानत मांगी थी लेकिन इमरान खान ने कहा कि भ्रष्टाचार के लिए दोषी ठहराए गए लोगों को तब तक बाहर नहीं जाने दिया जाएगा। शरीफ पर ये भी आरोप लगे थे कि उन्होंने 2016 में प्रस्तावित दक्षेस शिखर सम्मेलन के लिए आयातित 20 बुलेटप्रूफ वाहनों का खुद के लिये और अपने परिवार के लिए किया था और इसे लेकर उनकी कोर्ट में पेशी भी हुई थी।