रोहित बोले - मैं रिकाॅर्ड के बारे नहीं सोचता

रोहित बोले - मैं रिकाॅर्ड के बारे नहीं सोचता

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के उप-कप्तान रोहित शर्मा ने शनिवार श्रीलंका के खिलाफ हुए मैच में शतकीय पारी खेल अपने नाम एक विश्व रिकाॅर्ड दर्ज कर लिया। वह किसी एक विश्व कप में सबसे ज्यादा 5 शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं। उनकी इस उपलब्धि की हर कोई प्रशंसा कर रहा है लेकिन रोहित के लिए यह कोई बड़ी बात नहीं है। मैच के बाद रोहित ने बयान देते हुए कहा कि वह रिकाॅर्ड के बारे नहीं सोचते, अगरर अच्छा खेलते रहे तो

रोहित ने 94 गेंदों में 14 चाैकों व छककों की मदद से 103 रनों की पारी खेली जिसकी बदाैलत भारत ने श्रीलंका को 7 विकेट से हराया। 'मैन ऑफ द मैचच अवाॅर्ड' हासिल करने के बाद रोहित ने कहा, ''मैंने पांच शतक लगाने के बारे में नहीं सोचा था। मैं पहले भी यह बात कहता रहा हूं कि मेरा ध्यान मैदान पर जाकर अपना काम करने पर होता है। मैं किसी तरह के रिकॉर्ड के बारे में नहीं सोचता। अगर मैं अच्छा खेलूंगा तो इस तरह की चीजें होती रहेंगी। मेरा काम अपनी टीम को फिनिशिंग लाइन तक पहुंचाना है।''

उन्होंने आगे कहा, ''शॉट चयन एक बार आपके लिए महत्वपूर्ण हो जाता है। मुझे खुद को यह बताना होता है कि मैं उस पिच पर किस तरह के शॉट खेल सकता हूं और किस तरह के गेंदबाज मेरे लिए गेंदबाजी कर रहे हैं। मैं कोशिश करता हूं और गणना करता हूं कि मैं किस आधार पर आगे बढ़ना चाहता हूं। इसने अब तक लाभांश का भुगतान किया है। आपकी बल्लेबाजी में कुछ अनुशासन होना चाहिए और मैंने अपने अतीत से सीखा है। जो हुआ है वह हुआ है, हर दिन क्रिकेट में एक नया दिन है। मैं हर दिन को नए दिन के रूप में शुरू करना चाहता हूं। मैं सोचता हूं कि मैंने कोई एकदिवसीय मैच नहीं खेला है या टूर्नामेंट में कोई शतक नहीं बनाया है। यही वह मानसिकता है, जिसमें मैं उतरना चाहता हूं और मैं खुद को बताता रहता हूं। हालांकि मेरे आसपास के लोग सैकड़ों के बारे में बात करते रहते हैं, लेकिन खेल खिलाड़ी के रूप में यह चुनौती है।''

वहीं रोहित ने श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा का भी जिक्र किया जिनका आखिरी विश्व कप रहा। रोहित ने कहा, ''वह (मलिंगा) श्रीलंका के लिए और फिर मुंबई इंडियंस के लिए एक चैंपियन गेंदबाज रहा है। मैंने उनके साथ खेलते हुए बहुत अच्छा समय बिताया है। वह निश्चित रूप से मैच विजेता है। उन्होंने वर्षों में यह दिखाया है कि कैसे टीम उन पर भरोसा करती है। मैंने उन्हें करीब से देखा है और क्रिकेट जगत उन्हें याद करेगा। एक टीम के रूप में हम उस (औस-एसए गेम) के बारे में नहीं सोच रहे हैं। हमें आज बहुत बड़ी जीत मिली है और हम इस बात पर विचार करना चाहते हैं कि वहां क्या चल रहा है। जो भी विरोध करेगा हमारा रास्ता दिखाएगा।