संस्कृति होम्योपैथिक कॉलेज ने लगाया निःशुल्क स्वास्थ शिविर

संस्कृति होम्योपैथिक कॉलेज ने लगाया निःशुल्क स्वास्थ शिविर

मथुरा। संस्कृति होम्योपैथिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल ने सीनियर मेडिकल अफसर डॉ. बी एन पटसारिया के देखरेख में निःशुल्क स्वास्थ स्वास्थ एवं चिकित्सा शिविर का आयोजन मथुरा जिले के छाता जनपद के अंतर्गत रन्धेरा गाँव में किया। इस स्वास्थ शिविर के बारे में सौ से भी ज्यादा लोग जानकारी प्राप्त किये और बहुत सारे लोग स्वास्थ शिविर में आकर चिकित्सकों से मिलकर स्वास्थ लाभ एवं चिकित्सा लाभ उठाया।

सीनियर मेडिकल अफसर डॉ. बी एन पटसारिया ने निःशुल्क स्वास्थ शिविर में आये सभी मरीजों का निःशुल्क स्वास्थ परीक्षण किया। तत्पश्चात उन्होंने तथा उनके अधीनस्थ मेडिकल अफसर डॉ पुष्पेंद्र ने सभी मरीजों को मुफ्त स्वास्थ सम्बन्धी सलाह प्रदान की। चिकित्सकों ने निःशुल्क स्वास्थ शिविर में आये सभी मरीजों को स्वच्छता से सम्बंधित विभिन्न तथ्यों से अवगत कराया। इस स्वास्थ शिविर में आये ज्यादतर बच्चे पेट में कृमि तथा परजीवी की मौजूदगी से पीड़ित होने की शिकायत ले कर आये। स्वास्थ शिविर में आये बहुत सारे मरीजों ने जोड़ों के दर्द से पीड़ित होने के बारे में बताया। कुछ मरीज बवासीर (हेमेर्रोइड्स) से भी पीड़ित पाए गए। धूम्रपान करने वाले कई मरीज टी बी से भी ग्रसित पाए गए। सभी मरीजों को चिकित्सकों ने यथोचित स्वास्थ सलाह एवं चिकित्सा सलाह प्रदान की। बहुत सारे मरीजों को चिकित्सा सेवा प्रदान करने के उपरान्त निःशुल्क दवाइयां भी वितरित की गयी। इस अवसर पर डिस्पेंसर श्री सुखराज ने सभी मरीजों को उनकी मर्ज़ के अनुसार दवाइयों को सहर्ष उपलब्ध कराया और कहा कि मरीजों की मुफ्त सेवा करने में उन्हें आनंद की अनुभूति होती है।
चिकित्सकों ने शिविर में आये सभी लोगों को रोग, इलाज, दवा, स्वास्थ, स्वच्छता इत्यादि विभिन्न विषयों पर सभी का मार्ग दर्शन किया और दवाइयों के साइड इफेक्ट्स के बारें भी बताया। उन्होने सभी ग्रामीणों को इस बात से अवगत कराया कि होम्योपैथिक दवाइयों का सेवन करने के समय किन किन पदार्थों का सेवन वर्जित है। चिकित्सकों ने मरीजों एवं उनके परिवारजनों को बदलते मौसम में हो रहे रोगों, निदानों तथा उनसे बचने के बहुत सारे उपायों को भी बताया।

रन्धेरा गांव के लोग निःशुल्क स्वास्थ शिविर के आयोजन से काफी उत्साहित थे एवं प्रतीक्षारत थे। उन्होंने सभी चिकत्सकों एवं चिकत्सा कर्मियों का भरपूर स्वागत किया। ज्ञात हो कि संस्कृति विश्विद्यालय के संस्कृति होम्योपैथिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल और संस्कृति आयुर्वेदिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल हर महीने निःशुल्क स्वास्थ शिविर लगा कर लोगों को उच्च स्तरीय स्वास्थ सेवायें एवं चिकित्सा सेवाएं प्रदान कर रहे हैं। संस्कृति होम्योपैथिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल जनपद के अग्रणी हस्पतालों में से एक है और आस पास के लोगों को निःशुल्क स्वास्थ सेवायें तथा चिकित्सा सेवाएं प्रदान करने के लिए दृढ़ प्रतिज्ञ है।

कुलाधिपति श्री सचिन गुप्ता ने अपने सन्देश में कहा कि संस्कृति विश्वविद्यालय तथा संस्कृति होम्योपैथिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल पूरी तन्मयता से मथुरा ज़िले के विभिन्न जनपदों के विभिन्न गावों में निःशुल्क स्वास्थ शिविर लगाकर समाज के सभी वर्गों को स्वास्थ एवं चिकित्सा सेवाएं प्रदान करने का अटल और मज़बूत इरादा रखते हुए अपने चिकित्सा कार्यों में द्रुत गति से अग्रसर है। चिकित्सा सेवा मानव जीवन में एक अमूल्य सेवा है और इस सेवा को प्रदान करने से उनका ह्रदय प्रफुल्लित हो जाता है और वे चिकित्सा सेवा रूपी कर्म को ही भगवान् की सच्ची आराधना समझते हैं। कुलपति डॉ. राणा सिंह ने संस्कृति होम्योपैथिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल के सभी चिकित्सकों को बधाई देते हुए कहा कि गरीब लोगों को मुफ्त चिकित्सा सेवा प्रदान करना प्रभु की सच्ची सेवा है। उन्होंने इस अवसर पर संस्कृति होम्योपैथिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल के सभी फैकल्टी मेंबर्स, डॉक्टर्स और छात्रों को उनके सराहनीय कार्य की प्रशंसा की और कहा कि सच्ची सेवा भावना के साथ पूरे मथुरा शहर को आने वाले समय में उच्च स्तरीय स्वास्थ एवं चिकित्सा सेवाएं प्रदान करते रहें।

Uttar Pradesh, India