अंतिम गेंद तक गए रोमांचक मैच में चेन्नई ने राजस्थान को किया पस्त

अंतिम गेंद तक गए रोमांचक मैच में चेन्नई ने राजस्थान को किया पस्त

जयपुर: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के बारहवें सीजन के 25वें मुकाबले में गुरुवार रात राजस्थान रॉयल्स की चेन्नई सुपर किंग्स से भिड़ंत हुई। चेन्नई सुपर किंग्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करने उतरी राजस्थान की टीम ने 20 ओवर में 7 विकेट पर 151 रन बनाए और चेन्नई के सामने 152 रनों का लक्ष्य रखा। जवाब देने उतरी चेन्नई की टीम ने अंतिम गेंद तक गए मैच में लक्ष्य हासिल कर लिया। अंतिम ओवर में चेन्नई को 18 रन चाहिए थे और अंतिम गेंद पर उन्हें 3 रन चाहिए थे, आखिरी गेंद पर मिचेल सैंटनर ने छक्का जड़कर चेन्नई को जीत दिलाई। चेन्नई की तरफ से महेंद्र सिंह धोनी (58) और अंबाती रायुडू (57) ने अर्धशतक जड़े। ये महेंद्र सिंह धोनी के आईपीएल करियर की 100वीं जीत साबित हुई।

राजस्थान की टीम को कप्तान अजिंक्य रहाणे के रूप में पहला झटका लगा जो तीसरे ओवर की पांचवीं गेंद पर दीपक चाहर का शिकार बने। रहाणे 11 गेंदों में 14 रन बनाकर एलबीडब्ल्यू आउट हुए। इसके बाद जोस बटलर ने कुछ देर तो धुआंधार बल्लेबाजी की लेकिन चौथे ओवर की शुरुआती तीन गेंदों पर लगातार तीन चौके जड़ने के बाद चौथी गेंद पर वो कैच आउट हो गए। उन्हें शार्दुल ठाकुर ने कैच आउट कराया। जोस बटलर ने 10 गंदों में 23 रन बनाए।

इसके बाद छठे ओवर की दूसरी गेंद पर न्यूजीलैंड के गेंदबाज मिचेल सैंटनर ने संजू सैमसन (6 रन) को सब्सटिट्यूट फील्डर डीआर शोरी के हाथों कैच आउट करा दिया। इसके बाद राहुल त्रिपाठी और स्टीव स्मिथ भी ज्यादा देर तक पिच पर नहीं टिक सके। राहुल त्रिपाठी 10 रन बनाकर जडेजा की गेंद पर कैच आउट हुए जबकि 11वें ओवर में जडेजा ने स्टीव स्मिथ (15) को भी रायुडू के हाथों कैच करा दिया।

इसके बाद जोफ्रा आर्चर और बेन स्टोक्स से उम्मीदें थीं। बेन स्टोक्स कुछ देर तक तो पिच पर टिके लेकिन 26 गेंदों पर 28 रन बनाने के बाद वो दीपक चाहर की गेंद पर 19वें ओवर की दूसरी गेंद पर बोल्ड हो गए। इसके बाद जोफ्रा आर्चर और श्रेयस गोपाल ने अंतिम क्षणों में धुआंधार बल्लेबाजी की जिसके दम पर राजस्थान की टीम ने 20 ओवर में 151 रन बना डाले। जोफ्रा आर्चर ने 12 गेंदों में 13 रन और श्रेयस गोपाल ने 7 गेंदों में 19 रनों की पारी खेली। चेन्नई की तरफ से जडेजा, शार्दुल और दीपक चाहर ने 2-2 विकेट लिए जबकि एक विकेट मिचेल सैंटनर ने लिया।

राजस्थान के पेसर धवल कुलकर्णी ने पहले ही ओवर की चौथी गेंद पर चेन्नई सुपर किंग्स के ओपनर शेन वॉटसन (0) को बोल्ड कर दिया। इसके बाद दूसरे ओवर की पांचवीं गेंद पर सुरेश रैना (4) रन आउट हो गए। जबकि चौथे ओवर की अंतिम गेंद पर फाफ डु प्लेसी (7 रन) उनादकट की गेंद पर राहुल त्रिपाठी के एक शानदार कैच का शिकार हो गए। इसके कुछ ही देर बाद केदार जाधव (1 रन) इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स के एक लाजवाब कैच का शिकार होकर पवेलियन लौट गए।

इसके बाद महेंद्र सिंह धोनी और अंबाती रायुडू ने पारी संभाली। दोनों के बीच पांचवें विकेट के लिए 95 रनों की साझेदारी हुई। अंबाती रायुडू ने शानदार अर्धशतक जड़ा लेकिन वो 47 गेंदों पर 57 रनों की पारी खेलने के बाद अहम समय पर 18वें ओवर की चौथी गेंद पर स्टोक्स का शिकार बन गए। उन्हें श्रेयस गोपाल के एक शानदार कैच की वजह से पवेलियन लौटना पड़ा।

मैच के अंतिम ओवर में चेन्नई को 6 गेंदों में 18 रन चाहिए थे। बेन स्टोक्स के इस ओवर की पहली गेंद पर जडेजा ने छक्का जड़ा, दूसरी गेंद नो बॉल थी जिस पर 1 रन लिया। फिर से की गई दूसरी गेंद पर 2 रन लिए। तीसरी गेंद पर स्टोक्स ने शानदार यॉर्कर पर धोनी (43 गेंदों पर 58 रन) को बोल्ड कर दिया। चौथी गेंद पर अंपायर ने नो-बॉल दी लेकिन बाद में मुकर गए, धोनी को इतना गुस्सा आया कि वो मैदान में घुसकर अंपायर से भिड़ गए और बहस करने लगे लेकिन अंपायर ने नो-बॉल नहीं दी। पांचवीं गेंद पर मिचेल सैंटनर ने 2 रन लिए। छठी गेंद वाइड रही। अब अंतिम गेंद पर चेन्नई को 3 रन चाहिए थे और सैंटनर ने छक्का जड़कर टीम को जीत दिला दी।