हिटमैन के सैकड़े पर भारी पड़ा रिचर्डसन का चौका

हिटमैन के सैकड़े पर भारी पड़ा रिचर्डसन का चौका

पहले एकदिवसीय में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 34 रनों से हराया

सिडनीः ऑस्ट्रेलिया ने बल्लेबाजों और गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मुकाबला अपने नाम कर लिया। ऑस्ट्रेलिया ने सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर खेले गए मैच में भारत को 34 रन से मात दी। इसी के साथ मेजबान टीम ने सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। 289 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (133) की शतकीय पारी के बावजूद 9 विकेट गंवाकर 254 रन ही बना सकी। रोहित के अलावा महेंद्र सिंह धोनी ने (51) अर्धसतकीय पारी खेली। इन दोनों को छोड़कर मेहमान टीम की ओर से कोई भी बल्लेबाज ज्यादार क्रीज पर नहीं टिक सका। टीम इंडिया की खस्ता हालत का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि उसके छह बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा पार करने में भी नाकाम रहे।

भारत की शुरुआत बेहद खराब रही और उसके तीन बल्लेबाज चार रन के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट गए। शिखर धवन (0), विराट कोहली (3) और अंबाती रायुडू (0) के आउट होने के बाद टीम संकट के बादल मंडराने लगा। हालांकि, चौथे विकेट के लिए रोहित और धोनी ने 137 रनों की पार्टनरशिप कर भारत को जल्द ढेर होने से बचा लिया। लेकिन धोनी के 141 के कुल स्कोर पर आउट होने के बाद रोहित के किसी ने ज्यादा देर तक साथ नहीं दिया। जिसकी वजह से टीम लड़खड़ा गई। जब तक रोहित क्रीज पर थे टीम को जीत की कुछ आस थी मगर उनके पवेलियन लौटने पर भारतीय पारी बिखर गई।

रोहित का विकेट 221 के कुल स्कोर पर गिरा। उन्होंने 129 गेंदों में 10 चौकों और 6 चौकों की मदद से 133 रन बनाए। यह उनके वनडे क्रिकेट करियर का 22वां शतक है। दिनेश कार्तिक (12), रवींद्र जडेजा (8), कुलदीप यादव (3) और मोहम्मद शमी ने 1 रन का योगदान दिया। इनके अलावा निचले क्रम में बल्लेबाजी के लिए आए भुवनेश्वर कुमार (29) ने अपनी छोटी सी पारी में कई अच्छे शॉट लगाए। उन्होंने 23 गेंदों की अपनी पारी में 4 चौके जड़े। ऑस्ट्रेलिया के लिए जे रिचर्ड्सन ने बेहतरीन गेंदबाजी की। उन्होंने 10 ओवरों में महज 26 रन देकर 4 विकेट लिए। इसके अलावा जेसन बेहरेनडॉफ और मार्कस स्टोइनिस ने दो-दो विकेट अपने नाम किए। वहीं, पीटर सिडल को सिर्फ एक विकेट मिला।