केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के चलते बैंक रिटायरीज आन्दोलन की राह पर

केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के चलते बैंक रिटायरीज आन्दोलन की राह पर

लखनऊ: ‘‘बैंक पेंशनरो की 35 वर्ष से अधिक सेवा के उपरांत आर्थिक, स्वास्थ्य सम्बन्धी एवं सामाजिक स्थिति लगातार खराब हो रही है। सरकार बैंक पेंशनरो की न्यायोचित मांगो पर कोई ध्यान नही दे रही है‘‘ यह विचार बैंक पेन्शनर्स एवं रिटायरीज आर्गानाइजेशन (सी.बी.पी.आर.ओ.) के प्रदेश महासचिव काम0 अतुल स्वरूप ने आज स्टेट बैंक मुख्य शाखा में आयोजित प्रेस वार्ता में बताया। उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के चलते, बैंक रिटायरीज आन्दोलन की राह पर है, इसी क्रम में बैंक पेन्सनर्स एवं रिटायरीज आर्गानाइजेशन तथा ऑल इंडिया बैंक रिटायरीज फेडरेशन (ए.आई.बी.आर.एफ.) के संयुक्त तत्वावधान में कल 11 जनवरी को एक विशाल धरना एवं प्रदर्शन इलाहाबाद बैंक, हजरतगंज, पर आयोजित किया गया है। जिसमे प्रदेश भर से लगभग दो हजार से अधिक बैंक पेंशनरों के भाग लेने की संभावना है। हमारी मुख्य मांगे हैं- इस अवसर पर दिनेश चंद्रा ने बताया कि हम लगातार आई.बी.ए. और सरकार से अपनी मांगो पर सकारात्मक दृष्टिकोण लेने का ध्यान दिलाते रहे हैं परन्तु अभी तक सरकार की ओर से इस दिशा में कोई भी गम्भीर प्रयास नहीं किया गया, अतः विवश होकर हमे धरना एवं प्रदर्शन का निर्णय लेना पड़ा। स्टेट बैंक पेंशनर्स एसोसिएशन के महासचिव काम0 दिनेश चंद्रा ने बताया कि केन्द्र सरकारांे द्वारा लगातार हमारी उपेक्षा के कारण हमे आंदोलन की राह पकड़नी पड़ रही है, हमारी न्यायोचित मांगो को न मानकर सरकार अपनी हठधर्मिता का परिचय दे रही है। कामरेड यू. सी. अग्रवाल एवं एम.एल.वर्मा ने भी प्रेसवार्ता को सम्बोधित किया।

Lucknow, Uttar Pradesh, India