दालचीनी, सिरका करे ब्‍लड शुगर को कंट्रोल

दालचीनी, सिरका करे ब्‍लड शुगर को कंट्रोल

डायबिटीज के रोगियों के लिए ब्‍लड शुगर को सामान्‍य रखना बहुत जरूरी होता है, इसका स्‍तर बढ़ने और घटने से डायबिटिक्‍स को समस्‍या हो सकती है। ब्‍लड शुगर को सामान्‍य रखने में खानपान की भूमिका सबसे अहम होती है। कुछ आहार पोषक तत्‍वों से भरपूर होते हैं और ब्‍लड शुगर के स्‍तर को तुरंत कम करने में आपकी मदद करते हैं। यहां ऐसे ही कुछ आहार के बारे में जानकारी दी गई हैं जो ब्‍लड शुगर के स्‍तर के प्रबंधन में मदद करने के साथ-साथ आपको स्‍वस्‍थ जीवन जीने में मदद करते हैं।

दालचीनी दालचीनी ना सिर्फ खाने का जायका बढ़ाती है, बल्कि यह शरीर में ब्‍लड शुगर के स्‍तर को नियंत्रण में रखती है। मेरीलैंड में मानव पोषण अनुसंधान केंद्र में हुए अध्ययन के अनुसार, यदि आप आधा चम्मच दालचीनी रोजाना खाने में प्रयोग करते हैं तो यह कोशिकाओं को इंसुलिन से भी अधिक संवेदनशील बनाती है। कोशिकाएं ब्लड शुगर को ऊर्जा में परिवर्तित कर देती हैं। दालचीनी को पानी में घोलकर प्रयोग करने से ब्‍लड शुगर के स्तर में कमी आ जाती है।

सिरका सिरका को खाने के साथ खाते है तो ये ब्लड शुगर लेवल को कम रखने में मदद मिलती है। खाने से पहले दो चम्मच सिरका आपके ब्लड शुगर को कम कर सकता है। एरीजोना स्टेट यूनिवसिर्टी ने परीक्षण करके यह निष्कर्ष निकाला है। सूमहों में किये गये परीक्षण में डायबिटिक्‍स और डायबिटीज की आशंका वाले लोगों पर परीक्षण किया गया। इनको दिन में दो बार खाना खाने से पहले दो चम्मच सिरका दिया गया। सिरका देने के एक घंटे बाद मधुमेह के रोगी की ब्लड शुगर सिरका लेने से पहले की अपेक्षा 25 फीसदी कम थी

लहसुन लहसुन भी ब्लड शुगर को कम करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। लहसुन के नियमित सेवन से ब्लड शुगर का स्तर सामान्य रहता है। लहसुन उन हार्मोन्स का निर्माण करता है जो शरीर में शुगर को निंयत्रिंत करता है।

बीन्‍स
बीन्स डायबिटीज रोगियों के लिए बहुत हीं उपयुक्त आहार है। बीन्स पाचन क्रिया को धीमा करती है और ब्लड शुगर स्‍तर के एकाएक बढ़ने पर नियंत्रण लगाती है। बीन्स का प्रभाव इतना शक्तिशाली होता है कि यह डायबिटीज के मरीजों के समग्र रक्त शर्करा के स्तर को कम करता है।

ओटमील ओटमील डायबिटीज के लिए बहुत हीं उपयुक्त आहार माना जाता है। जिन लोंगो को डायबिटीज की बीमारी है उन्‍हें भी ओटमील खाने की सलाह दी जाती है क्‍योंकि इसमें घुलनशील फाइबर होते हैं, जो कि स्‍टार्च को हजम करने में मददगार होते हैं। इस वजह से शरीर में ब्‍लड शुगर लेवल भी दुरुस्‍त रहता है।

आहार के जरिये डायबिटीज टाइप2 में ब्‍लड शुगर के स्‍तर को नियंत्रण में रखा जा सकता है, इसके अलावा अगर इन आहारों के सेवन के बाद भी ब्‍लड शुगर का स्‍तर सामान्‍य न हो तो चिकित्‍सक से सलाह लीजिए।