शरद यादव की दो टूक, महागठबंधन में कांग्रेस ही रहेगी 'ड्राइविंग सीट' पर

शरद यादव की दो टूक, महागठबंधन में कांग्रेस ही रहेगी 'ड्राइविंग सीट' पर

जयपुर: लोकतांत्रिक जनता दल के वरिष्ठ नेता शरदव यादव ने कहा कि केन्द्र की मोदी नीत बीजेपी सरकार को हराने के लिये विपक्षी दलों के महागठबंघन में कांग्रेस 'ड्राइविंग सीट' की भूमिका में रहेगी। और शेष दल उसे सहयोग करेंगे। राजस्थान प्रवास पर आए यादव ने कहा कि कांग्रेस का समूचे देश में प्रभाव है लेकिन क्षेत्रिय दल अपने अपने क्षेत्रों में सिमटे हुये है ऐसे में महागठबंघन में कांग्रेस ही मुख्य भूमिका में रहेगी।

पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगोड़ा के पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी को प्रधानमंत्री बनाने के सवाल को टालते हुये उन्होंने कहा कि महागठबंधन का मूल उद्देश्य पीएम मोदी नीत भाजपा गठबंधन सरकार को सत्ता से हटाना है।

उन्होंने केन्द्र की मोदी नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार को हर मोर्चे पर असफल बताते हुए कहा कि देश के संविधान और लोकतंत्र की रक्षा के लिये इसे हटाना सभी विपक्षी दलों की प्राथमिकता होनी चाहिये और लोकतांत्रिक जनता दल इसके लिये सतत प्रयत्नशील रहेगा।

यह पूछे जाने पर कि महागठबंधन का प्रघानमंत्री पद का दावेदार कौन होगा तो उन्होंने कहा कि देश में तीन बार कांग्रेस को हटाने के लिये भी भी गठबंधन बना था जिसमे किसी को भी प्रधानमंपत्री के रुप में घोषित नहीं किया उन्होंने कहा कि 1977, 1989 और 1996 इसके उदाहरण है और कांग्रेस उस समय सबकी दुश्मन थी। उस गठबंधन में 1996 को छोड़कर बीजेपी भी शामिल थी।