लखनऊ बनेगा अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं वाला शहर

लखनऊ बनेगा अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं वाला शहर

गृहमंत्री राजनाथ और सीएम योगी ने 438 परियोजनाओं का किया शिलान्यास

लखनऊ: केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को 938 करोड़ की 438 परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। अटल बिहारी वाजपेई कन्वेंशन सेंटर चौक में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री व गृहमंत्री ने लखनऊ को अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं का शहर बनाने की बात कही। गृहमंत्री ने अपने संसदीय क्षेत्र लखनऊ में 4 नए फ्लाईओवर के निर्माण के साथ मंडल की 399 करोड रुपए की परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया।

समारोह में गृहमंत्री ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की खुलकर तारीफ की। उन्होंने कहां यूपी के मुख्यमंत्री तहे दिल व पूरी प्रतिबद्धता के साथ प्रदेश के विकास के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। उनके लगन व परिश्रम से वह दिन दूर नहीं है जब यूपी देश के अग्रणी राज्यों में से एक होगा। उन्होंने यूपी के मेधावी बच्चों के गांव में उनके सम्मान के लिए सड़क बनवाने की योजना की भी काफी तारीफ की और कहा इसकी जितनी सराहना की जाए कम है।

उन्होंने कहा कि लखनऊ के विकास की गंगा बहाने की शुरुआत अटल बिहारी वाजपेई ने की थी। बाद में पूर्व सांसद लालजी टंडन ने इसे आगे बढ़ाया। अब लखनऊ अंतरराष्ट्रीय दर्जे का शहर बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। गृह मंत्री ने कहा कि वह वादे तो नहीं करते हैं लेकिन शहर के विकास के लिए जो भी प्रयास होगा उसे करेंगे। इस मौके पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने अपने 4 साल के कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड भी प्रस्तुत किया।

उन्होंने कहा कि लखनऊ के चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट का विस्तार किया जाएगा। अगले महीने इसका भी शिलान्यास होगा। एयरपोर्ट के पैसेंजर की हैंडलिंग क्षमता 45 लाख से बढ़ाकर एक करोड़ की जाएगी। एयरपोर्ट के विकास पर 1383 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसकी स्वीकृति मिल गई है। उन्होंने गोमतीनगर के रेलवे स्टेशन को अंतरराष्ट्रीय दर्जे का बनाने की भी बात कही। कहा इसका काम बहुत तेजी से चल रहा है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2017 से पहले यूपी की पहचान यहां की सड़कों के गड्ढों से होती थी। यहां की खराब कानून व्यवस्था व गुंडागर्दी से होती थी। बिजली के लिए लोग परेशान रहते थे। उन्होंने कहा किआज हर क्षेत्र में बहुत तेजी से काम हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा देश के सबसे बड़े राज्य की राजधानी होने के नाते लखनऊ की पहचान सबसे अच्छे शहरों में होनी चाहिए। लखनऊ के सारे मंत्री व विधायक मिलकर इस काम को आगे बढ़ा रहे हैं। इसमें सरकार उनके साथ है। उन्होंने सड़कों के निर्माण में पिछले 15 महीने में हुए कार्यों का ब्यौरा प्रस्तुत किया। साथ ही कहा कि लखनऊ में मेट्रो के विस्तार की योजना पर काम चल रहा है। स्मार्ट सिटी का काम तेजी से आगे बढ़ा है जो काम इन 15 महीनों में हुए हैं वह पिछली सरकार ने 5 साल में भी नहीं किए हैं। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी प्रदेश में सड़कों के निर्माण पर हुए कामों का ब्यौरा प्रस्तुत किया।

Lucknow, Uttar Pradesh, India