केंद्रीय मंत्री ने रोहिंग्याओं पर वरुण गांधी की टिप्पणी को देशहित के खिलाफ बताया

केंद्रीय मंत्री ने रोहिंग्याओं पर वरुण गांधी की टिप्पणी को देशहित के खिलाफ बताया

नई दिल्ली: ‘रोहिंग्या मुसलमानों को यूं न ठुकराएं’ बीजेपी सांसद वरुण गांधी के इस बयान के बाद से सियासी गलियारों में चर्चाएं शुरू हो गई हैं. जब गृहमंत्री सहित बीजेपी के दूसरे नेता रोहिंग्याओं को देश में रखने के पक्ष में नहीं हैं, ऐसे वक्त वक्त में वरुण का ये बयान बहुत अहमियत रखता है.

वरुण गांधी के इस बयान के बाद ही केन्द्र सरकार में मंत्री हंसराज अहीर ने टिप्पणी देते हुए कहा, 'देशहित में सोचने वाला कोई व्यक्ति ऐसा बयान नहीं देगा. जब म्यांमार की सरकार उन्हें रखने को तैयार नहीं है तो हम क्यों रखेंगे.'

सियासी जानकार हंसराज अहीर के इस बयान के कई-कई मायने निकालकर देख रहे हैं. सीताराम येचूरी ने कहा, वरुण ने बात तो बहुत अच्छी कही है, लेकिन क्या वो अपनी पार्टी को इसे मनवा पाएंगे. वर्ना सोचें कि वो वहां क्या कर रहे हैं.

गौरतलब है कि आज एक हिंदी समाचार पत्र में वरुण गांधी ने रोहिंग्या मुसलमानों पर एक लेख लिखा है. इसमें उनका कहना है कि हमे अंतरराष्ट्रीय संधियों के बारे में सोचने के साथ ही अपने देश की समृद्ध परंपरा का भी ध्यान रखना होगा.