नक़लची उठा रहे हैं नक़ल का मुद्दा: अखिलेश

नक़लची उठा रहे हैं नक़ल का मुद्दा: अखिलेश

सिद्धार्थनगर/संतकबीरनगर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह दूसरों के कपड़ों की नकल करते हैं. अखिलेश ने यह बयान तब दिया जब एक दिन पहले मोदी ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में नकल के लिए परीक्षा केंद्रों के ठेके दिए जाते हैं. उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर और संतकबीरनगर में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा, ‘प्रधानमंत्री जी, आप भी तो नकल कर रहे हैं. हमें पढ़ाई में नकल की बात बता रहे हो आप कि हम पढ़ाई की नकल कर रहे हैं. कपड़े पहनने की नकल कौन कर रहा है बताओ.’ उन्होंने कहा, ‘एक बड़ा आदमी है, जिसने अपना नाम छपा सूट पहना था... मैं भाजपा के लोगों से पूछना चाहता हूं कि अपना नाम छपा सूट किसने पहना था... मुझे लगता है नकल आप लोगों ने भी की है.’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘प्रधानमंत्री की ओर से नकल करने का उदाहरण उस वक्त सामने आया जब अमेरिकी राष्ट्रपति भारत आए थे. उन्होंने जो सूट पहना था उस पर उनका नाम अंकित था. प्रधानमंत्री (मोदी) ने किसकी नकल की थी?’ गौरतलब है कि 2015 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की भारत यात्रा के दौरान मोदी ने ऐसा सूट पहना था जिन पर उनका नाम बारीक अक्षरों में अंकित था. इस सूट ने राजनीतिक विवाद पैदा कर दिया था. बाद में इस सूट की नीलामी 4.31 करोड़ रुपये में की गई थी. अखिलेश ने यह भी कहा कि भाजपा ने सपा के चुनाव घोषणापत्र की भी नकल की.

उन्होंने कहा, ‘पास करने के लिए परीक्षा में किसने थोड़ी-बहुत नकल नहीं की... अपने हाथ उठाएं और मुझे बताएं कि बचपन में पास करने के लिए किसने नकल नहीं की... प्रधानमंत्री जी, आप भी किसी और चीज की नकल कर रहे हैं.’ मुख्यमंत्री ने कहा, ‘ऐसा लगता है कि हर कोई नकल करके पास हो रहा है... यहां तक कि टॉपर भी.’ गोंडा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने शुक्रवार को आरोप लगाया था कि परीक्षा में बड़े पैमाने पर नकल कराने के लिए ठेके दिए जा रहे हैं.

गधे वाली अपनी टिप्पणी पर मोदी के पलटवार का जवाब देते हुए अखिलेश ने कहा, ‘बहराइच में प्रधानमंत्री ने 10 मिनट का भाषण गधे पर दिया और भाजपा के नेताओं ने मुझे बताया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री गधे की खासियत नहीं जानते...मुझे बताएं कि क्या आपमें से कोई इसके बारे में जानना चाहता है.’ अखिलेश ने कहा, ‘यदि नहीं तो आप लोगों को मेरी मदद करनी पड़ेगी..नहीं जानता कि वे कहां पहुंच गए हैं... वे श्मशान और कब्रिस्तान की तरफ जा रहे हैं और होली-दिवाली की बातें कर रहे हैं... समाजवादी लोग भाईचारा बढ़ाने और लोगों को एकजुट करने की दिशा में काम करते हैं.’