अखिलेश-राहुल को अमित शाह ने बताया शहज़ादा

अखिलेश-राहुल को अमित शाह ने बताया शहज़ादा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की अराजक स्थिति पर आज भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने सीधे अखिलेश सरकार को घेरा. उन्होंने कहा कि कल मेरठ में सरेआम गोली मारकर स्थानीय व्यापारी अभिषेक की हत्या कर दी गई जो लगातार अखिलेश सरकार की कानून-व्यवस्था की विफलता का नमूना है।

श्री अमित शाह ने इस अवसर की नाजुकता, संवेदना और गहराई को समझते हुए अपनी पदयात्रा को स्थगित किया तथा मृतक अभिषेक को मौन रखकर श्रधांजलि दी. इस सभा में अखिलेश सरकार के खिलाफ हमलावर रुख अपनाते हुए श्री अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति का आलम यह है कि रोज महिलाओं के साथ 24 बलात्कार, 21 बलात्कार की कोशिश तथा 13 हत्याएं होती है। उत्तर प्रदेश में 161 प्रतिशत बलात्कार की अपराधों में वृद्धि हुई है। सरकार का अपराधियों को संरक्षण देने का मामला इस बात से साफ समझ में आता है कि 70 प्रतिशत घटनाएँ सपा के मंत्रियों के इलाकों में होती है.

श्री अमित शाह ने सपा और कांग्रेस के दोनों शहजादों पर व्यंग करते हुए कहा कि राहुल-अखिलेश गठबंधन जनता का ध्यान बांटने के लिए शहजादो का गठबंधन हैं। उन्होंने चुनौती दी कि अगर अखिलेश और राहुल में ईमानदारी है तो उत्तरप्रदेश की कानून व्यवस्था पर जवाब दें, मथुरा कांड पर जवाब दें। वो इस बात का भी जवाब दे कि अखिलेश सरकार के पांच साल के कार्यकाल में क्यों उत्तर प्रदेश रेप, चोरी, डकैती के मामलों में देश में नम्वर वन बन गया है? उन्होंने कहा कि एक शहजादे ने देश को लुटा तो दुसरे ने उत्तरप्रदेश को लुटा और अब दोनों शहजादें मिलाकर जनता की आँखों में धुल झोंकने में लगे है, जिसे उत्तरप्रदेश की जनता पहचान चुकी है।

श्री अमित शाह ने भारतीय जनता पार्टी के लोक संकल्प कल्याण पत्र को दोहराते हुए कहा कि हमने उत्तर प्रदेश के विकास का पूरा रोडमैप बना रखा है। हम उत्तर प्रदेश को बेहतर राज्य बनायेंगे। किसानों को कर्ज माफी और गन्ने का पुराना भुगतान 120 दिनों के अन्दर करेंगे। लड़कियों को मुफ्त शिक्षा देंगे और उनकी सुरक्षा की लिए एंटी रोमियों दल का गठन करेंगे।

उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश किसानों के हित में पशुधन को बचाने के लिए यांत्रिक कत्लखानों को बंद करेंगे। उन्होंने आवाहन किया कि उत्तर प्रदेश की जनता सपा और बसपा के झूठे वादों में नहीं फंसे। श्री शाह ने पूरे विश्वास के साथ कहा कि उत्तर प्रदेश में 2017 में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी।