आत्ममुग्धता से बचे टीम इंडिया: सचिन

आत्ममुग्धता से बचे टीम इंडिया: सचिन

नई दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने भारतीय क्रिकेट टीम को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विश्व कप मुकाबले से पूर्व आत्ममुग्धता से बचने की सलाह देते हुए कहा कि दक्षिण अफ्रीका की टीम का क्षेत्ररक्षण पाकिस्तान से कहीं बेहतर है।

भारत ने विश्व कप में अपने अभियान की शुरुआत रविवार को एडिलेड ओवल में पाकिस्तान को 76 रन से हराकर जीत के साथ की थी।

तेंदुलकर ने एक समाचार चैनल से कहा, ‘एक-एक रन लेना आसान नहीं होगा। वे (दक्षिण अफ्रीका) कहीं अधिक तेज हैं, उनकी थ्रो अधिक ताकतवर है और आउटफील्ड में वह पाकिस्तान से काफी अच्छे हैं।’ दक्षिण अफ्रीका के अच्छे क्षेत्ररक्षण को देखते हुए तेंदुलकर ने कहा कि भारत को पहले विकेट के लिए अच्छी साझेदारी की जरूरत है और उन्हें तेज रन लेने के दौरान सतर्क रहना होगा।

गत चैम्पियन भारत टूर्नामेंट के प्रबल दावेदारों में शामिल दक्षिण अफ्रीका से अपने दूसरे मैच में रविवार को मेलबर्न में भिड़ेगा। पूर्व भारतीय कप्तान तेंदुलकर ने टीम इंडिया को दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुवा डेल स्टेन से संभलकर रहने की सलाह दी।

उन्होंने कहा, ‘इसमें कोई शक नहीं कि वह उनका स्ट्राइक गेंदबाज है। उसने अविश्वसनीय तरीके से शानदार गेंदबाजी की है।’ तेंदुलकर ने पाकिस्तान के खिलाफ पहले मैच में विफल रहे सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद जताई और कहा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अगले मैच में पारी की शुरुआत अहम होगी। वह इसके अलावा बल्ले से कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की फार्म को लेकर भी चिंतित नहीं हैं। एडिलेड ओवल में पाकिस्तान पर 76 रन की जीत के दौरान रविवार को रोहित 15 ही रन बना पाए थे लेकिन तेंदुलकर ने लोगों से अपील की कि वे इस बल्लेबाज पर दबाव नहीं बनाएं।

उन्होंने कहा, ‘रोहित पर दबाव मत बनाओ, हमें खिलाड़ी के दिमाग में संदेह नहीं आने देना चाहिए। रोहित को चिंता की जरूरत नहीं है। अगली बार वह सही करेगा।’ कप्तान धोनी के संदर्भ में तेंदुलकर ने कहा, ‘मैं धोनी की फार्म से चिंतित नहीं हूं। ड्रेसिंग रूम में खिलाड़ियों ने सोचा होगा कि हम 320 से अधिक रन बनाएंगे। 300 प्रतिस्पर्धी स्कोर था। अगर पाकिस्तान बेहतर खेलता तो मामला करीबी हो सकता था क्योंकि आजकल 275-300 सामान्य स्कोर है।’

तेंदुलकर ने टीम पर भरोसा जताते हुए कहा कि वह दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों की बराबरी कर सकती है।

उन्होंने कहा, ‘हम आस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका जैसी टीमों की बराबरी कर सकते हैं। हम पाकिस्तान के खिलाफ जिस तरह खेले उससे भी बेहतर खेल सकते हैं। हमारे बल्लेबाजी और बेहतर हो सकती है और हमारे गेंदबाजों को इसी तरह का प्रदर्शन जारी रखने की जरूरत है।’