अवैध शराब खरीदने, बेचने वालों पर लगे रासुका

अवैध शराब खरीदने, बेचने वालों पर लगे रासुका

शराब कारोबारियों ने की प्रदेश सरकार से मांग

लखनऊ: लखनऊ शराब एसोसिएशन के प्रमुख पदाधिकारियों की बैठक स्थानीय एलोरा होटल में संगठन के अध्यक्ष एस0पी0 सिंह एवं कन्हैयालाल मौर्या की अध्यक्ष्ता में सम्पन्न हुई। बैठक में पिछले दिनों कच्ची शराब से हुई मौतों पर दुख व्यक्त किया गया तथा दो मिनट का मोन भी रखा गया। बैठक के बाद प्रेस वार्ता का भी आयोजन हुआ। एसोसिएशन के अध्यक्ष एस0पी0 सिंह ने कहा कि प्रदेश में अन्य राज्यों की तुलना मंे शराब मंहगी है। सरकार को चाहिए कि प्रदेश में एक्साइज ड्यूटी कम करके ग्रामीण क्षेत्रों के लिए नई एक्साइज डियूटी बनाकर 22 से 26 रूपये एम0आर0पी0 वाला पौवा उपलब्ध कराने की मांग की, जिससे अवैध कच्ची/केमिकल वाली शराब की बिक्री पर अंकुश लगाया जा सके, जिससे घटनाओं की पुर्नरावृत्ति न हो।

एसोसिएशन के महामंत्री कन्हैया लाल मौर्या ने कहा कि कच्ची शराब के प्रस्तावित क्षेत्रों में थाने स्तर से बेचने और खरीदने वालों  पर कठोर कार्यवाही होनी चाहिए। क्षेत्रीय इंचार्ज व से क्षेत्रीय कांस्टेबिल पुलिस की जिम्मेदारी तय होनी चाहिए। पुलिस प्रशासन द्वारा एक अलग से सेल का गठन करना चाहिए।

कोषाध्यक्ष सुरेश प्रताप सिंह अवैध शराब (कैमिकल) के कारोबार में लिप्त लोगों पर रासुका के तहत कार्यवाही खरीदने वाले तथा बेंचने वालों पर दोनों पर हो।

बैठक मंे संजय जायसवाल ने पड़ोसी राज्यों से शराब तस्करी रोकने की मांग को तथा हर वर्ष प्रदेश 15 प्रतिशत लाइसेंस में इजाफा पर विरोध जताया। शराब कारोबारी जल्द प्रमुख सचिव से मिलकर अपनी मांगो का ज्ञापन दंेगे।

बैठक में एस0पी0 सिंह, कन्हैया लाल मौर्या, सुरेश प्रताप सिंह, संजय जायसवाल, शिवकुमार जायसवाल, विनोद कठपालिया, विजय जायसवाल, सुरेन्द्र जायसवाल, नरेन्द्र सोनकर, रवि जायसवाल, पवन जायसवाल, सुरेश यादव, रमेश, सुरेश, जय सिंह सोनकर, राजेश, राजीव गुप्ता, ओमप्रकाश जायसवाल, पुनीत इत्यादि शराब कारोबारी शामिल थे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India