मोदी के मंत्री राबड़ी देवी को दी घूंघट में रहने की सलाह

मोदी के मंत्री राबड़ी देवी को दी घूंघट में रहने की सलाह

जवाब में पूर्व मुख्यमंत्री ने पूछा, क्यायही है आपके @narendramodi जी का महिला सशक्तिकरण?

नई दिल्ली: मोदी सरकार के मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और राजद नेता राबड़ी देवी को लेकर निशाना साधा। चौबे ने राबड़ी देवी को घूंघट में रहने की सलाह दी। बिहार के सीतामढ़ी में जदयू उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार करने पहुंचे केंद्रीय मंत्री ने राबड़ी देवी को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा, ‘राबड़ी देवी जी को क्या कहिएगा वो हमारी भाभी हैं… मैं कहूंगा आप घूंघट में ही रहिए।’

राबड़ी देवी ने अश्विनी चौबे के इस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। राबड़ी ने ट्वीट कर कहा, ‘चौबे जी, घूंघट वाली महिलाओं से इतनी नफ़रत और भय क्यों? क्या यही है आपके @narendramodi जी का महिला सशक्तिकरण? यह है बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ? आप जैसे चौबे, छब्बे और दूबे की पितृसत्ता से सूबे को हमने छूटकारा दिलाया तो उसकी पीड़ा आपके बयान में नज़र आ रही है। इतना बेशर्म मत बनिये।’

राबड़ी देवी यहीं नहीं रूकीं। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘चौबे जी आपको घूंघट करने वाली औरतों से डर लगता है क्या? 5 साल आप अपने क्षेत्र में नहीं घूमे तो आपको डर लग रहा कि औरतें आपकी दाढ़ी नोच लेंगी। जब आप अपने क्षेत्र में वोट मांगने जाएंगे तो औरतें आपको जवाब देंगी।’

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री ने अश्विनी चौबे से सवाल पूछा, ‘क्या आप अपनी बेटी बहनों को घूंघट में रखते हैं? दूसरे की बहू बेटियों को घूंघट तानने को कह रहे हैं।’ दूसरी तरफ लालू की बेटी ने भी अश्विनी चौबे के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

मिसा भारती ने ट्वीट कर कहा, ‘कोई भाजपाई सोनिया जी के नेतृत्व से आगे गोरे चर्म को बताता है, कोई प्रियंका जी को लेकर उनकी सूरत व लिपस्टिक पर टिप्पणी करता है तो कोई मनुवादी पितृसत्तात्मक का पोषक व उपासक @RabriDeviRJD को घूँघट में रहने की नसीहत देता है!भाजपा की महिला कार्यकर्ताओं व नेत्रियों से सहानुभूति है!’

राबड़ी ने सिलसिलेवार ट्वीट कर अश्विनी चौबे को निशाने पर लिया। अपने एक अन्य ट्वीट में राबड़ी ने कहा, ‘अश्विनी चौबे जैसे संघी लंपट भूल गए है कि मोहन भागवत जैसे बूढ़े संघी लोगों की हाफ़ पैंट से full पैंट हमने ही करवाया था। मनुवादी भाजपाई गुंडे घृणित मानसिकता के महिला विरोधी लोग है। ये भाजपाई मानसिक रूप से विक्षिप्त जीव है। पता नहीं घर में अपनी माँ-बहन,बेटी को कैसे सम्मान देते है?’