सर्किट के बाद सेंसेक्स-निफ़्टी में गिरावट और गहराई

सर्किट के बाद सेंसेक्स-निफ़्टी में गिरावट और गहराई

मुंबई: कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन के बीच आज शेयर बाजार का कारोबार फिर इतना प्रभावित हुआ कि शुरुआती घंटे में ही बेंचमार्क इंडेक्स पर लोअर सर्किट लग गया। सर्किट लगने के बाद रुका कारोबार फिर शुरू हुआ तो गिरावट और गहरा गयी|

शुक्रवार की क्लोजिंग के मुकाबले सेंसेक्स 3300 अंक नीचे गिर गया। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 10 पर्सेंट नीचे आ गया, जिसकी वजह से शेयर बाजार का कारोबार 45 मिनटों के लिए रोकना पड़ गया।

एक ही महीने में यह दूसरी बार है जब शेयर बाजार की ट्रेडिग रुक गई है। इससे पहले 13 मार्च को शेयर बाजार का कारोबार लोअर सर्किट की वजह से रोक दिया गया था। आज सेंसेक्स 2991.85 अंक गिरकर 2991.85 अंकों पर पहुंचा तक लोअर सर्किट लग गया। इंडेक्स के सभी शेयर लाल निशान पर हैं। वहीं निफ्टी 9.63 पर्सेंट की गिरावट के साथ 7,903 अंकों पर पहुंच गया। बाजार जिस स्तर पर खुला था, उसी से अंदाजा लग गया था कि जल्द ही यह लोअर सर्किट को हिट कर सकता है। अब 10 बजकर 42 मिनट पर बाजार का फिर प्री-ओपन सेशन शुरू होगा, इसके 15 मिनट बाद ओपनिंग।

कोरोना के चलते सब ठप, लॉकडाउन के बीच शेयर बाजार फिर बड़ी गिरावट के साथ खुला था। सेंसेक्स 2307.16 अंकों की गिरावट के साथ 27,608.80 पर खुला था। वहीं निफ्टी पर कारोबार की शुरुआत 8.66 पर्सेंट की गिरावट के साथ 7,945.70 पर हुई थी। सेंसेक्स के सभी शेयर लाल निशान पर ट्रेड कर रहे थे। आज सुबह जब बाजार खुला तो शुरुआती 15 मिनट के कारोबार में निवेशकों के 8 लाख करोड़ रुपये डूब गए। बाजार खुलते ही 150 शेयर ने लोअर सर्किट को हिट किया, जबकि 340 शेयर अपने 52 सप्ताह के न्यूनतम स्तर पर ट्रेड कर रहे थे।