कोरोना से लड़ने के लिए फिट होना भी जरूरी: डा. आनंदेश्वर पाण्डेय

कोरोना से लड़ने के लिए फिट होना भी जरूरी: डा. आनंदेश्वर पाण्डेय

लखनऊ। भारतीय ओलंपिक संघ के कोषाध्यक्ष डा. आनंदेश्वेर पाण्डेय ने कहा है कि कोरोना वायरस से लड़ने के लिए सिर्फ अपने को घरों में कैद करने से काम नहीं चलेगा। इस लड़ाई के लिए शारीरिक रूप से फिट रहना बेहद जरूरी है। शारीरिक दमखम की जरूरत है। शरीर में प्रतिरोधक क्षमता जरूरी है। इसके लिए घर में रहकर व्यायाम आदि करना बेहद जरूरी है। डा. पाण्डेय ने बताया कि घर में रहें। एकांतवास में रहें। पर जहां भी रहें वहां व्यायाम जरूरी है।

इसके लिए घर से बाहर निकलने की जरूरत नहीं है। घर का आंगन है, छत है, बरामदा है, बालकनी हैं जहां भी हाथ-पैर हिलाने भर की जगह हो वहां सुबह-शाम व्यायाम जरूर करें। व्यायाम में स्पाट रनिंग, जम्पिंग, स्ट्रेचिंग, हाथ-पैर-कमर के व्यायाम, सिटअप, पुश अप आदि कर सकते हैं। घर में अगर ट्रेडमिल हो तो उस पर पैदल चले या रनिंग करें। फिक्स साइकिलिंग करें। जिन्हें डांस का शौक हो वे डांस कर सकते हैं। बुजुर्ग व्यक्ति घर में तीन-चार कुर्सियों का घेरा बनाकर उसके चक्कर लगा सकते हैं।

कम से कम से इतना वर्कआउट करें की शरीर से पसीना निकल आए। इससे शारीरिक दमखम बढ़ेगा। साथ ही शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता मिलेगी। उन्होंने खिलाड़ियों से भी अपील की है कि स्टेडियम बंद हैं तो इसका मतलब यह नहीं घर पर शांत बैठ जाएं। घर के भीतर ही अपने को फिट रखने के लिए वर्कआउट करें। टेलीफोन के जरिए अपने प्रशिक्षकों से बातकर वर्कआउट पूछें और घर में व्यायाम करें। इसके अलावा कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर पूरा ऐतिहात बरतें। आधा घंटे के अंतराल में अच्छी तरह हाथ धोएं, मास्क लगाएं, हाथों से नाक, आंख और मुंह न छुएं