लखनऊ में हुआ 'इंडियाज़ बेस्ट डांसर' का ऑडिशन, कुछ के चेहरे चमके तो कुछ हुए निराश

लखनऊ में हुआ 'इंडियाज़ बेस्ट डांसर' का ऑडिशन, कुछ के चेहरे चमके तो कुछ हुए निराश

लखनऊ: डांस रियलिटी शो "इंडियाज़ बेस्ट डांसर" के लिए सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन प्रतिभाओं को ढूंढने आज नवाबों के शहर लखनऊ पहुंचा| शहर के रायबरेली रोड पर मिलेनियम स्कूल में आज इसके लिए ऑडिशन का आयोजन किया गया जिसमें शहर और दूरदराज़ के सैकड़ों प्रतिभाशाली युवाओं जो डांस को अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, जिनके लिए डांस एक जूनून है ने पार्टिसिपेट किया| यह ऑडिशन 15 से 30 साल की उम्र के युवाओं के लिए था| आज हुए ऑडिशन में 418 लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया था| ऑडिशन में अलग-अलग तरह के डांस फॉर्म्स देखने को मिले, जिनके साथ शहर के बेहतरीन डांसर्स ने मुकाबला किया।

शो के बारे में पत्रकारों से लखनऊ ऑडिशन के जज अक्षय पांचाल ने बात की| वह लखनऊ में डांसिंग प्रतिभाओं से ज़्यादा इम्प्रेस नज़र नहीं आये| दूसरे चैनलों पर आने वाले डांसिंग शोज़ से उन्होंने इस डांस शो के कांसेप्ट को अलग बताया हालाँकि उस कांसेप्ट के बारे में उन्होंने कुछ भी बताने से इंकार किया| अक्षय पांचाल ने कहा कि यह टैलेंट का खेल है अगर आपमें प्रतिभा है तो आप कहीं भी पहुँच सकते हो| प्रतिभागियों को सलाह के सवाल पर उन्होंने कहा कि सिर्फ तीन चार महीने की तैयारी से कुछ नहीं होता आपको लम्बे समय तक डांस को सीखना और समझना होता है| अक्षय ने बताया की यहाँ पर सेलेक्ट हुए उम्मीदवारों को अगले राऊंड के लिए किसी दूसरे शहर बुलाया जायेगा जिसके बाद फाइनल राऊंड मुंबई में होगा जिसको डांस मास्टर गीता माँ, टेरेंस लुइस और बॉलीवुड एक्ट्रेस मलाइका अरोड़ा जज करेंगी फाइनल राउंड के लिए कितनी प्रतिभाओं का चयन होगा इसपर भी अक्षय ने कोई संख्या बताने से इंकार किया |

सेलेब्रिटी के न आने से हुए निराश, आयोजकों पर लगाया भेदभाव का आरोप

ऑडिशन में आये उम्मीदवारों में काफी संख्या में लोगों ने सेलेक्शन न होने पर निराशा जताई और कुछ बच्चों ने आयोजकों पर पक्षपात का आरोप भी लगाया| इन लोगों का कहना था कि सबकुछ पहले से तय है और ऑडिशन का सिर्फ दिखावा हो रहा है| कुछ उम्मीदवार द्वारा आयोजकों द्वारा ऑडिशन न लिए जाने पर भी निराशा जताई हालाँकि आयोजकों से बात करने पर उन्होंने एज क्राइटेरिया के कारण परमिशन नहीं दी गयी|