नये साल पर पाकिस्तान में खुलेगा ऐतिहासिक हिंदू मंदिर

नये साल पर पाकिस्तान में खुलेगा ऐतिहासिक हिंदू मंदिर

नई दिल्ली: पाकिस्तान तीन धार्मिक स्थल के बाद अब नये साल में एक हिंदू एतिहासिक मंदिर के द्वार भी खोल सकता है। रिपोर्ट्स के अनुसार पेशावर में स्थित में 'पंज तीरथ' को अगले महीने खोला जा सकता है। बंटवारे के बाद से ही ये मंदिर बंद पड़ा है।

मान्यता है कि ये मंदिर वहीं बना है जहां पांडव अपने निर्वासन के दौरान कुछ समय के लिए रहे थे। खैबर पख्तूनख्वा प्रांत पहले ही इस मंदिर को नेशनल हैरिटेज घोषित कर चुका है।

टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार पाकिस्तान के इवाक्यू ट्रस्ट प्रॉपर्टी बोर्ड के चेयरमैन आमिर अहमद ने बताया मंदिर के जीर्णोद्धार का काम जारी है। उन्होंने कहा, 'हम इस मंदिर को जनवरी में खोल सकते हैं।'

हाल के दिनों में ये दूसरा हिंदू मंदिर होगा जिसे पाकिस्तान सरकार की ओर से खोला जाएगा। इससे पहले इसी साल अक्टूबर में सियालकोट में 1000 साल पुराने शिवाला तेजा सिंह मंदिर को हिंदू धर्म के लोगों के लिए खोला गया था।

वहीं, करतारपुर कॉरिडोर से पहले पाकिस्तान ने झेलम में यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साइट रोहतास किले के पास स्थित गुरुद्वारा चोआ साहिब के द्वार भी खोले थे। वहीं, जुलाई में भी पाकिस्तान ने ऐतिहासिक गुरुद्वारा गुजरांवाला स्थित गुरुद्वारा खारा साहिब खोला था। इसे भी विभाजन के बाद बंद कर दिया गया था।

India