विधानसभा में बोले उद्धव- मैं आज भी 'हिंदुत्व' की विचारधारा के साथ हूँ

विधानसभा में बोले उद्धव- मैं आज भी 'हिंदुत्व' की विचारधारा के साथ हूँ

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के नए सीएम उद्धव ठाकरे आज विधानसभा में कुछ अलग ही अंदाज में नजर आए. ठाकरे परिवार से पहली बार किसी संवैधानिक पद को संभालने वाले उद्धव ठाकरे ने बड़े ही सधे अंदाज में पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, 'मैं आपको विपक्ष का नेता नहीं कहूंगा, लेकिन आपको 'जिम्मेदार नेता' कहूंगा. ठाकरे ने कहा, अगर आप हमारे लिए अच्छे होते तो यह सब कुछ (बीजेपी-शिवसेना गठबंधन टूटना) नहीं होता.' ठाकरे ने कहा, मैंने देवेंद्र फडणवीस से बहुत कुछ सीखा है और उनका हमेशा दोस्त रहूंगा. मैं आज भी 'हिंदुत्व' की विचारधारा के साथ और इसके कभी नहीं छोड़ूंगा. बीते पांच साल मैंने कभी सरकार को धोखा नहीं दिया है. महाराष्ट्र के सीएम ने कहा कि वह एक भाग्यशाली मुख्यमंत्री हैं क्योंकि जिन्होंने उनका विरोध किया वे साथ हैं और जो हमारे साथ थे वह अब विरोध में हैं. मैंने कभी किसी से नहीं कहा कि मैं यहां आ आ रहा हूं लेकिन मैं आ गया. आपको बता दें कि आज ही कांग्रेस के नेता नाना पटोले को निर्विरोध विधानसभा अध्यक्ष चुना गया है और देवेंद्र फडणवीस की नियुक्ति विपक्ष के नेता के तौर पर हुई है. महाराष्ट्र में शिवसेना ने बीजेपी के साथ तीस साल पुरानी दोस्ती तोड़कर सरकार बनाई है.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव मे बीजेपी को 105, शिवसेना को 56, एनसीपी को 54 और कांग्रेस को 44 सीटें मिली हैं. बीजेपी और शिवसेना ने मिलकर बहुमत का 145 का आंकड़ा पार कर लिया था. लेकिन शिवसेना ने 50-50 फॉर्मूले की मांग रख दी जिसके मुताबिक ढाई-ढाई साल सरकार चलाने का मॉडल था. शिवसेना का कहना है कि बीजेपी के साथ समझौता इसी फॉर्मूले पर हुआ था लेकिन बीजेपी का दावा है कि ऐसा कोई समझौता नहीं हुआ. इसी लेकर मतभेद इतना बढ़ा कि दोनों पार्टियों की 30 साल पुरानी दोस्ती टूट गई. इसके बाद कई नाटकीय घटनाक्रम के बाद Congress-NCP और शिवसेना ने मिलकर सरकार बनाई और अब महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे हैं. अब देखने वाली बात यह है कि कैबिनेट का बंटवारा कैसे होता है.

India