'ये कट्टरपंथी घृणा में अंधे हैं, इन्हें मालूम नहीं पेशेवर व्यक्ति क्या होता है'

'ये कट्टरपंथी घृणा में अंधे हैं, इन्हें मालूम नहीं पेशेवर व्यक्ति क्या होता है'

अभिजीत बनर्जी पर पियूष गोयल की टिप्पणी के लिए राहुल ने साधा निशाना

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने नोबेल पुरस्कार के लिए चयनित अभिजीत बनर्जी पर केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल की टिप्पणी के लिए उन पर निशाना साधते हुए कहा कि 'ये कट्टरपंथी घृणा में अंधे हैं और उन्हें इस बात का इल्म ही नहीं है कि पेशेवर व्यक्ति क्या होता है।

दरअसल केन्द्रीय मंत्री ने पुणे में संवाददाताओं से बातचीत में बनर्जी को 'वाम झुकाव वाला व्यक्ति करार दिया था। इसके बाद बनर्जी ने शनिवार को एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा था कि 'वाणिज्य मंत्री मेरी पेशेवर दक्षता पर प्रश्न उठा रहे हैं।

गांधी ने पीयूष की टिप्पणी पर बनर्जी के जवाब से जुड़ी मीडिया रिपोर्टों को टैग करते हुए ट्वीट किया,''प्रिय श्री बनर्जी, ये कट्टरपंथी घृण में अंधे हैं और उन्हें इल्म नहीं है कि पेशवर व्यक्ति क्या होता है। आप उन्हें यह समझा नहीं सकते, भले ही आप एक दशक तक भी कोशिश करते रहें।''

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा,''इस बात को ध्यान में रखें कि लाखों भारतीयों को आप के काम पर गर्व है।

गौरतलब है कि गोयल ने शुक्रवार को यह भी कहा था कि न्यूनतम आय योजना पर बनर्जी के सुझाव को भारतीय मतदाताओं ने नकार दिया है और जैसा वह सोचते हैं उसे मानने की जरूरत नहीं है।

गांधी से पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बनर्जी के संदर्भ में गोयल की टिप्पणी को लेकर शनिवार को सरकार पर तंज कसते हुए कहा था कि सरकार का काम ''कॉमेडी सर्कस'' चलाना नहीं बल्कि अर्थव्यवस्था में सुधार करना है।