आइएनएक्स मीडिया केस: चिदंबरम और बेटे कार्ति समेत CBI ने 14 लोगों को बनाया आरोपी

आइएनएक्स मीडिया केस: चिदंबरम और बेटे कार्ति समेत CBI ने 14 लोगों को बनाया आरोपी

नई दिल्ली: आईएनएक्स मीडिया केस में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने अपनी चार्जशीट दाखिल कर दी है। जांच एजेंसी सीबीआई ने अपनी चार्जशीट में दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम, उनके बेटे कार्ति और पीटर मुखर्जी समेत 14 लोगों को आरोपी बनाया है। इस मामले में दिल्ली की कोर्ट में 21 अक्टूबर को सुनवाई होगी।

इस मामले में चिदंबरम फिलहाल तिहाड़ जेल में बंद हैं। गुरुवार को ईडी की टीम ने चिदंबरम से पूछताछ की थी, इसके बाद ईडी ने उन्हें गिरफ्तार किया था।

सीबीआई की चार्जशीट में पीटर मुखर्जी, कार्ति चिदंबरम, भास्कर, पी चिदंबरम, सिंधुश्री खुल्लर, अनूप पुजारी, प्रबोध सक्सेना, आर प्रसाद, आईएनएक्स मीडिया, एएससीएल और शतरंज प्रबंधन का नाम है। चार्जशीट में वित्त मंत्रालय के चार पूर्व अफसरों का भी नाम है।

वहीं, पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने गुरुवार को चिदंबरम की हिरासत बढ़ा दी है। चिदंबरम 24 अक्टूबर तक प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की हिरासत में रहेंगे। उन्हें अब 24 अक्टूबर को ही कोर्ट में पेश किया जाएगा।

सीबीआई द्वारा 21 अगस्त को गिरफ्तार किए जाने के बाद से ही चिदंबरम हिरासत में हैं। उन्होंने निचली अदालत का रुख न करके सीधे हाई कोर्ट में नियमित जमानत के लिए याचिका दायर की थी। चिदंबरम को यहां उनके जोर बाग स्थित घर से गिरफ्तार किया गया था।

सीबीआई ने 15 मई 2017 को एक प्राथमिकी दर्ज की थी और आरोप लगाया था कि चिदंबरम के वित्त मंत्री रहने के दौरान 2007 में आईएनएक्स मीडिया समूह को 305 करोड़ रुपये का विदेशी निवेश हासिल करने के लिये एफआईपीबी की मंजूरी देने में अनियमितता की गई। इसके बाद प्रवर्तन निदेशालय ने भी इस संदर्भ में 2017 में धनशोधन का एक मामला दर्ज किया था।

वित्त मंत्री के अपने कार्यकाल के दौरान आइएनएक्स मीडिया को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) से मंजूरी देने में कथित अनियमितता में संलिप्तता को लेकर चिदंबरम को 21 अगस्त को गिरफ्तार किया गया था, तब से वे न्यायिक हिरासत में हैं।

India