कैन्ट की जनता भाजपा को सबक़ सिखाने को तैयार है: अरुण द्विवेदी

कैन्ट की जनता भाजपा को सबक़ सिखाने को तैयार है: अरुण द्विवेदी

बसपा प्रत्याशी ने धुआंधार जनसम्पर्क से चुनाव कार्यक्रमों को गति प्रदान की

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी के कैण्ट वि0स0 क्षेत्र से प्रत्याशी अरुण द्विवेदी ने आज क्षेत्र में चुनाव कार्यक्रमों में गति प्रदान करते हुए धुआंधार जनसम्पर्क एवं चौपालों के माध्यम से कैण्ट की जनता से सीधा संवाद स्थापित किया और वोट मांगा। श्री अरुण द्विवेदी ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं सहित क्षेत्र के सभ्रांत लोगों के साथ कैंट वि0स0 क्षेत्र के तमाम मुहल्लों में सघन जनसम्पर्क किया।

बसपा प्रत्याशी ने आज प्रमुख रूप से नाका गुरुद्वार, विजयनगर, सब्जीमंडी ,पान दरीबा, ब्लेंड स्कॉयर, मवैया, आर्य नगर मोतीनगर , कायम खेड़ा निवाज़ खेड़ा, नाका चौराहा आदि में सघन जनसम्पर्क किया । इसके अतिरिक्त आदर्शनगर कल्याणपुर टैम्पो स्टैंड के पास आयोजित भगवती जागरण और भंडारे में शामिल होकर माँ भगवती से विजय का आशीर्वाद लिया|

जनसम्पर्क के दौरान बसपा प्रत्याशी श्री अरुण द्विवेदी ने कहा कि भाजपा सरकार सरकारी मशीनरी को पूरी तरह से इस्तेमाल करके लोकतंत्र को कमजोर करने का प्रयास कर रही है लेकिन जनता अब बीजेपी की नीतियों को जान चुकी हैं जनता को केन्द्र की साढ़े पांच वर्ष व यूपी सरकार की ढाई वर्ष की सरकार में नजरंदाज किया गया। बेरोजगारी से युवा परेशान है, मझोले और छोटे व्यापारियों का व्यापार बर्बाद हो चुका है। महिलाऐं असुरक्षित है, बहन जी के शासनकाल में हुए विकास कार्यों की उपेक्षा की जा रही है और सिर्फ अख़बारों में विज्ञापन छपवाकर विकास का ढिंढोरा पीटा जा रहा है जबकि धरातल पर कुछ भी नहीं है |

श्री अरुण द्विवेदी ने कहा, सत्ता में आने के लिए भाजपा ने झूठ और फरेब का सहारा लिया है। बेहतर कानून व्यवस्था के नाम पर सत्ता में आयी भाजपा सरकार के शासन में आज कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। दिन दहाड़े हत्याएं हो रही हैं, बेटियां असुरक्षित हैं, चारों ओर अराजकता का माहौल बन गया है, इस अराजक माहौल में लोगों को आज बहन जी का शासनकाल याद आ रहा है, बसपा शासन में जो अपराधी दुम दबाये छुपे हुए बैठे थे या सलाखों के पीछे थे आज खुले आम अपराध कर रहे हैं और सरकार व शासन प्रशासन आँख मूंदे हुए है| इस उपचुनाव में कैंट की जनता भारतीय जनता पार्टी को सबक सिखाने के लिए तैयार बैठी है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India