संकट में श्रीलंका का पाक दौरा

संकट में श्रीलंका का पाक दौरा

कोलंबो: श्रीलंका का आगामी पाकिस्तान दौरा अब एक नई समस्या से घिर गया है। बुधवार को इस दौरे के लिए अपनी टीम की घोषणा करने के बाद श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने कहा कि उन्हें अपनी टीम पर आंतकी हमले की चेतावनी मिलने के बाद वह पाकिस्तान में सुरक्षा स्थितियों का 'पुन: आकलन' कर रहे हैं।

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने बुधवार को खुलासा किया कि उन्हें चेतावनी मिली है कि पाकिस्तान के छह-मैचों के आगामी दौरे के दौरान उनकी राष्ट्रीय टीम आंतकी हमले का निशाना बन सकती है।

बोर्ड ने कहा है कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने श्रीलंकाई टीम पर 'संभावित आतंकवादी खतरे की विश्वसनीय जानकारी' मिलने के बाद 'स्थिति का पुन: आकलन' करने को कहा है।

उन्होंने कहा कि अभी दौरा रद्द नहीं किया गया है लेकिन पाकिस्तान की सुरक्षा स्थिति का फिर से जायजा लिया जाएगा।

श्रीलंकाई टीम 2009 में लाहौर टेस्ट के दौरान आतंकी हमले का शिकार हुई थी। आंतकियों की गोलीबारी में छह श्रीलंकाई खिलाड़ी घायल हो गए थे, जबकि दो पाकिस्तानी सुरक्षाकर्मियों और दो नागरिकों की मौत हो गई थी।

इस आतंकी हमले के बाद से ये श्रीलंका पहला पाकिस्तानी दौरा होगा। इस हमले के बाद से ज्यादातर देशों ने पाकिस्तान का दौरा नहीं किया है।

10 श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने सुरक्षा का हवाला देते हुए आगामी पाकिस्तानी दौरे से नाम वापस ले लिया है।

बोर्ड का ये बयान 27 सितंबर से शुरू हो रहे पाकिस्तान दौरे के लिए तीन वनडे और तीन टी20 मैचों के लिए श्रीलंका की दो टीमों का ऐलान किए जाने के कुछ ही देर बाद आया।