अमेठी के साथ पीएम मोदी कर रहे हैं सौतेला बर्ताव: राहुल

अमेठी के साथ पीएम मोदी कर रहे हैं सौतेला बर्ताव: राहुल

अमेठी: कांग्रेस अध्‍यक्ष बनने के बाद सोमवार को पहली बार अमेठी पहुंचे राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर अमेठी से सौतेला बर्ताव करने का इल्‍जाम लगाया. राहुल ने कहा कि अमेठी में जो फूड पार्क बना रहे थे उसे मोदी सरकार ने बंद कर दिया. अगर वो फूड पार्क बन जाता तो किसान को आलू भी नहीं फेंकना पड़ता और दूसरी फसलों का भी अच्‍छा दाम मिल जाता. राहुल को काले झंडे दिखा रहे बीजेपी कार्यकर्ताओं से कांग्रेस कार्यकर्ताओं की झड़प भी हुई.

अमेठी के सलोन इलाके में राहुल के अध्‍यक्ष बनने की खुशी में अभिनंदन हुआ. यहां जनसभा में राहुल ने किसानों का मुद्दा उठाया और मोदी सरकार पर अमेठी से सौतेला बर्ताव करने का आरोप लगाया. राहुल ने अमेठी में 200 करोड़ की लागत वाले एक मेगा फूड पार्क की बुनियाद रखी थी. इसमें फूड प्रोसेसिंग की 50 यूनिट लगनी थी. फुरसत गंज एयर स्ट्रिप से प्रोसेस्‍ट फूड बाहर भेजने के लिए कार्गो टर्मिनल बनने की भी बात थी. लेकिन नई सरकार ने उसे बंद कर दिया.

राहुल गांधी ने कहा, 'आलू किसान से पूछना चाहता हूं, आपकी क्‍या हालत है, आपको क्‍या दाम मिलता है? मोदी जी ने वादा किया था कि सही दाम मिलेगा. आलू फेंकना पड़ रहा हे. किसान पूरे देश में परेशान हैं. हमारी सरकार थी, फूड पार्क बनाना चाहते थे. आलू और दूसरे किसानों को फायदा होता. नरेंद्र मोदी और उनके मंत्रियों ने फूड पार्क छीना.'

बीजेपी राहुल के किले में सेंध लगाने के लिए अमेठी में काफी मेहनत कर रही है. स्‍मृति ईरानी से लेकर अमित शाह तक यहां राहुल के खिलाफ जुटे हुए हैं. पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अमेठी और रायबरेली के अलावा बाकी सारी सीटें हार गई है. और अब तो केंद्र के साथ-साथ प्रदेश में भी बीजेपी की सरकार है. ऐसे में अमेठी में राहुल के लिए चुनौतियां बढ़ी हैं. बीजेपी लगातार यह इल्‍जाम लगा रही है कि राहुल गांधी ने अमेठी के लिए कुछ नहीं किया. इसलिए आज राहुल ने जनता से अपील की कि आप लोगों को बताएं कि कांग्रेस ने उनके लिए क्‍या किया है.