योगी इफ़ेक्ट: बंद होने लगे बूचड़खाने

योगी इफ़ेक्ट: बंद होने लगे बूचड़खाने

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के नवनियुक्त मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शपथ ग्रहण के साथ 'एक्शन' में हैं. उन्होंने सोमवार को अपने कार्यकाल के पहले दिन अधिकारियों से 15 दिन में अपनी संपत्तियों का ब्योरा देने को कहा. उन्होंने नौकरियों में मेरिट के आधार पर भर्तियां करने के लिए कहा. योगी की सरकार बनते ही बूचड़खानों पर गाज गिरनी शुरू हो गई है. रविवार को रात में इलाहाबाद के अटाले इलाके में तीन बूचड़खानों पर ताले लगा दिए गए.

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार बनते ही एक्शन में हैं. उनकी सरकार बनते ही बूचड़खानों पर गाज गिरनी शुरू हो गई है. रविवार को रात में इलाहाबाद के अटाले इलाके में तीन बूचड़खानों पर ताला लगा दिया गया. हालांकि इन बूचड़खानों के बंद होने से सैकड़ों लोगों की रोजी-रोटी पर संकट खड़ा हो गया है. हालांकि स्थानीय प्रशासन का कहना है कि यह बूचड़खाने पहले ही बंद कर दिए गए थे लेकिन सवाल यह उठता है कि अगर पहले ही बंद थे तो फिर ताला नई सरकार के आने पर क्यों लगाया गया?

Lucknow, Uttar Pradesh, India